DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घूस लेते पकड़े गए पांच राजस्व कर्मचारी फिर निलंबित

भागलपुर, वरीय संवाददाता। डीएम बी. कार्तिकेय ने बुधवार को पांच राजस्व कर्मचारियों को निलंबित कर दिया। 31 जनवरी को मुख्यालय में आयुक्त और डीएम के साथ हुई बैठक में भ्रष्टाचार से संबंधित मामलों में कठोर कार्रवाई करने का निर्णय लिया गया था। इसी के आलोक में निलंबन की कार्रवाई की गई है। इन राजस्व कर्मचारियों को पूर्व में नगिरानी अन्वेषण ब्यूरो की आर्थिक अपराध इकाई ने रशि्वत लेते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया था।

गिरफ्तारी ने बाद राजस्व कर्मचारियों को निलंबित किया गया था। लेकिन जेल से निकलने के बाद उन्हें निलंबन से मुक्त कर दिया गया था। कर्मचारियों के विरुद्ध अपर समाहर्ता के यहां विभागीय जांच चल रही है। राजस्व कर्मचारी श्यामाकांत मंडल को खरीक में 31 अगस्त, 2010 को विजिलेंस की टीम ने रशि्वत लेते हुए पकड़ा था। सात अक्टूबर को उन्हें निलंबित कर दिया गया था। वर्तमान में वह सन्हौला में राजस्व कर्मचारी हैं। निलंबन के दौरान इनका मुख्यालय नारायणपुर किया गया है।

अशोक यादव को 19 दसिंबर, 2006 को सबौर प्रखंड से विजिलेंस ने रशि्वत लेते हुए पकड़ा था। 12 जनवरी, 2007 को उन्हें निलंबित कर दिया गया था। वर्तमान में यादव कहलगांव अंचल कार्यालय में पदस्थापित हैं। अरुण कुमार रजक को सबौर से चार मई 2007 को विजिलेंस ने पकड़ा था। 22 मई 2007 को उन्हें निलंबित कर दिया गया था। वर्तमान में वह रंगरा चौक अंचल कार्यालय में उसी पद पर कार्यरत हैं। निलंबन के दौरान इनका मुख्यालय कहलगांव किया गया है।

राजेश रंजन पोद्दार को अंचल कार्यालय कहलगांव से 30 दिसंबर 2006 को विजिलेंस ने रिश्वत लेते रंगे हाथ पकड़ा था। वर्तमान में पोद्दार रंगरा अंचल कार्यालय में पदस्थापित हैं। निलंबन के दौरान इनका मुख्यालय पीरपैंती किया गया है।

रामाकांत राय को अंचल कार्यालय कहलगांव से विजिलेंस ने 26 अगस्त 2008 को पकड़ा था। तीन अक्टूबर 2008 को इन्हें निलंबित किया गया था। राय वर्तमान में अंचल कार्यालय सुल्तानगंज में कार्यरत हैं। निलंबन के दौरान इनका मुख्यालय सबौर किया गया है।

मुख्यमंत्री ने भ्रष्टाचार से संबंधित मामलों की सुनवाई दो माह के अंदर पूरा कर दोषियों को बर्खास्त करने का निर्देश दिया है। इसके आलोक में ऐसे मामलों की सुनवाई अपर समाहर्ता श्यामल किशोर पाठक के यहां चल रही है। माना जा रहा है कि कुछ दिनों के अंदर रिश्वत के मामले में कई कर्मचारियों की बर्खास्तगी हो सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:घूस लेते पकड़े गए पांच राजस्व कर्मचारी फिर निलंबित