DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘ओए लकी, लकी ओए’ की तरह चुराते थे वाहन

ट्रांस हिंडन। वरिष्ठ संवाददाता फिल्म ‘ओए लकी, लकी ओए’ में लकी की तरह ऑनडिमांड वाहन चुराने वाले एक गिरोह को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। ये आरोपी दूर-दराज के गांवों के लोगों की मांग पर वाहन चोरी करते थे और फिर उन्हें उन लोगों को बेच देते थे। पुलिस ने इन आरोपियों से 20 दोपहिया वाहन बरामद किए हैं। ये लोग वाहनों के बगल में अपना दोपहिया खड़ा कर मास्टर चाबी से वाहन चुराते थे।

इंदिरापुरम थाने में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में एसपी सिटी मुनिराज ने बताया कि मंगलवार को शवि मंदिर शक्तिखंड 3-4 में वाहनों की चेकिंग कर रही थी। शाम को वर्ल्ड रेजीडेंसी की ओर से दो बाइकों पर दो युवक आते दिखे। पुलिस ने रुकने का इशारा किया तो एक बाइक सवार वापस भागने लगा। पुलिस ने दौड़ाकर उसे पकड़ लिया। दोनों युवकों गीता कॉलोनी निवासी सलीम औरम मेरठ निवासी मोहसिन ने पूछताछ में बताया कि वे लोग एनसीआर से वाहन चुराकर उन्हें दूर दराज के इलाकों में बेच देते हैं।

उन्होंने बताया कि वर्ल्ड रेजीडेंसी के पास खाली पड़े मैदान में वाहन खड़े करते हैं। उनके बताने पर दो अन्य आरोपियों मेरठ निवासी सचिन और पंकज को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इनके कब्जे से 18 बाइक और दो स्कूटी बरामद की हैं। भीड़ भरे बाजारों से उड़ाते थे वाहन बदमाशों ने बताया कि दूर दराज के इलाकों में कुछ और लोग इनके संपर्क में हैं। ये लोग लोगों की डिमांड के अनुसार वाहन चुराकर सप्लाई करते हैं।

ये लोग ऐसी गाड़ियों को निशाना बनाते थे जो बाजार या भीड़ भरे स्थानों पर खड़ी होती थीं। बदमाश बाइक से सटाकर अपनी बाइक खड़ी करते थे। इसके बाद अपनी बाइक बैठकर साथ खड़े वाहन को मास्टर चाबी की मदद से खोलकर चुरा लेते थे। गर्लफ्रेंड को चोरी की स्कूटी की गिफ्ट सचिन ने बताया कि वैशाली से चोरी की गई स्कूटी को उसने अपनी गर्लफ्रेंड को गिफ्ट कर दिया। गर्लफ्रेंड को बताया था कि उसने यह स्कूटी खरीदी है।

पुलिस ने स्कूटी बरामद कर ली है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:‘ओए लकी, लकी ओए’ की तरह चुराते थे वाहन