DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मंच पर दिखाई दी गुटबाजी

कासगंज। संजय अग्रवाल कार्यक्रम के दौरान पार्टी की गुटबंदी उभर कर सामने आ गयी। इसका जीवन्त उदाहरण बुधवार को उस समय मंच पर देखने को मिला, जब समाजवादी पार्टी के नेता एक-दूसरे को नीचा दिखाने की कोशशि करते नजर आये। हालांकि मंच पर इस प्रतिद्वन्दता को देखते हुये लोकनिर्माण मंत्री शविपाल सिंह यादव भी खासे खफा नजर आये और उन्होंने बगैर किसी का नाम लिये समाजवादियों को न केवल लताड़ लगायी बल्कि यह भी कहा कि चुनाव सन्निकट है ऐसे में पार्टी के पदाधिकारियों में प्रतिस्पर्धा नहीं होनी चाहिए।

नेता ही नहीं बल्कि कार्यकर्ता भी एकजुटता से सीट निकालने के लिये प्रतबिद्घ होने चाहिए। उद्घाटन समारोह के दौरान जहां सपा प्रत्याशी को छोड़कर किसी अन्य जनप्रतिनिधि ने सपा जिलाध्यक्ष का नाम तक नहीं लिया। पुल की आधारशिला रखने वाले पूर्व मंत्री के परिवार से कोई नहीं आया आज जिस सबसे बड़े् पुल का उद्घाटन प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री द्वारा किया गया उसकी आधारशिला रखने वाले मंत्री रहे स्व. राजेन्द्र सिंह चौहान नगला अमीर के पुत्र इत्यादि कोई मंच पर दिखाई तक नहीं दिया।

जबकि लम्बे अर्से से समाजवादी पार्टी से जुड़ी पटियाली की ब्लॉक प्रमुख असर्फी देवी भी मंच पर ही नहीं बल्कि सभा में भी नदारद थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मंच पर दिखाई दी गुटबाजी