DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

प्राइवेट शिक्षक भी बनेंगे प्रैक्टिकल में परीक्षक

बरेली। प्रमुख संवाददाता। रुहेलखंड विवि से जुड़े प्राइवेट कालेजो के अनुभवी शिक्षकों को प्रैक्टिकल परीक्षा में परीक्षक बनाने का रास्ता साफ हो गया है। बुधवार को परीक्षा समिति की बैठक में नीतिगत निर्णय ले लिया गया। क्रियान्वयन के लिए कमेटी गठित कर दी गई है। वहीं फर्जी प्राइवेट फार्म जमा करने वाले छात्रों से जुर्माना वसूलने पर सहमति बन गई।

कुलपति मुशाहिद हुसैन की अध्यक्षता में हुई परीक्षा समिति की बैठक में प्राइवेट कालेजों के अनुभवी शिक्षकों को प्रैक्टिकल परीक्षा में परीक्षक बनाने की बात उठी। इसपर तय हुआ कि आठ साल से अधिक पुराने कालेज में लगातार पांच साल से पढ़ा रहे शिक्षकों को परीक्षक बनाया जाएगा। इस फैसले के क्रियान्वयन के लिए प्रो. पीके यादव की अध्यक्षता में कमेटी गठित कर दी गई। इसमें डा. एमसी रस्तोगी और प्रो बीआर कुकरेती सहित चार सदस्य हैं। कमेटी को 21 दिनों में हाईकोर्ट की गाइडलाइन को ध्यान में रखकर गाइडलाइन बनाने को कहा गया है।

बैठक में कुलसचवि डा. केएन पांडेय, उपकुलसचवि बीएन सिंह, डा. श्याम बिहारी लाल, डा. दानवीर सिंह, डा. रुस्तगी मौजूद रहे। नकली प्राइवेट फार्म मामले में हर विद्यार्थी पर 1300 रुपये जुर्मानाबरेली। फर्जी प्राइवेट परीक्षाफार्म मामले में विवि को हुए नुकसान की भरपाई के लिए विद्यार्थियों से जुर्माना लिया जाएगा। इसमें बीए, बीकॉम तथा एमए एमकॉम के प्रथम, द्वितीय और तृतीय वर्ष के छात्रों से एक समान जुर्माना वसूला जाएगा। उदाहरण के तौर पर बीए पार्ट वन के फार्म की कीमत 1230 रुपये थी, जबकि छात्र जुर्माने के रूप में कालेज में 1300 रुपये जमा करेंगे।

इनसेट..विषय परविर्तन पर 500 रुपये जुर्मानारुहेलखंड विवि ने विषय परविर्त पर 500 रुपये जुर्माना लगाने का प्रस्ताव पास किया है। जुर्माना देने पर ही परिणाम जारी होगा। इनसेट..दो परीक्षक किए गए डबिारबरेली। प्रायोगिक परीक्षा के लिए आए दो परीक्षकों को गलत नंबर देने के कारण डबिार कर दिया गया है। इसमें एसआरएसपीजी कालेज रुद्रपुर के इतहिास विभाग के शिक्षक डा. राजीव सक्सेना और जौनपुर स्थित कालेज के कामर्स शिक्षक डा. एमपी सिंह हैं। प्राइवेट फार्म का अंतिम मौकापरीक्षा समिति में प्राइवेट फार्म जमा करने का अंतिम मौका दिया गया है।

छात्र 4000 रुपये विलंब शुल्क के साथ 10 फरवरी तक कालेज में फार्म जमा कर सकेंगे। विवि में कालेजों को 17 फरवरी तक फार्म जमा करना होगा। फेल छात्राओं को दे दिया दाखिलादिशा कालेज बिजनौर ने फेल हुईं छात्राओं के परीक्षाफार्म भरवा दिए। ये छात्राएं दोबारा फेल हो गईं। परीक्षा समिति की बैठक में दिशा कालेज के प्राचार्य को दोबारा ऐसी नहीं होने की चेतावनी दी गई। गुम कापियों पर विवि कराएगा परीक्षाबरेली कालेज के 36 विद्यार्थियों की बीए हिंदी की कापियां गायब होने के मामले में दोबारा परीक्षा कराने की इजाजत दी गई।

दो छात्रों के प्रवेश निरस्तपंजाब टेक्निकल विवि से डिस्टेंस लर्निग से बीसीए करने वाले दो छात्रों के प्रवेश विवि ने निरस्त कर दिए। दोनों छात्र एमसीए में एक सेमेस्टर की परीक्षा दे चुके थे। वहीं सिक्किम मनीपाल यूनविर्सिटी से अर्हता परीक्षा पास करने वाले छात्र का प्रवेश भी कैंसिल कर दिया गया। प्राचार्य को मिली चेतावनीउपाधि कालेज में परीक्षाओं के दौरान अर्थशास्त्र का पेपर खुलने के कारण विवि को परीक्षा निरस्त करनी पड़ी थी। इस मामले में प्राचार्य को लापरवाही के लिए चेतावनी जारी की गई है।

ं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:प्राइवेट शिक्षक भी बनेंगे प्रैक्टिकल में परीक्षक