DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिन्नी के निशाने पर फिर केजरीवाल, वापस लिया समर्थन

बिन्नी के निशाने पर फिर केजरीवाल, वापस लिया समर्थन

आम आदमी पार्टी (आप) से निष्कासित विधायक विनोद कुमार बिन्नी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आज (बुधवार) फिर निशाना साधा और आरोप लगाया कि कई मौकों उन्होंने झूठ बोला। बिन्नी ने कहा कि वह आप सरकार से समर्थन वापस ले रहे हैं।

बिन्नी ने एक टेलीविजन चैनल से कहा कि मैं आम आदमी पार्टी सरकार से अपना समर्थन वापस ले रहा हूं। मैं इस संबंध में उपराज्यपाल नजीब जंग से मिलूंगा और आप सरकार से समर्थन वापसी लेने वाला एक पत्र उन्हें दूंगा।

बिन्नी ने कहा कि उन्होंने केवल अन्ना हजारे के लोकपाल विधेयक को पारित किये जाने के मुद्दे पर आप सरकार को समर्थन दिया था। उन्होंने आरोप लगाया कि जनलोकपाल को लेकर केजरीवाल सरकार राजनीति कर रही है।

उन्होंने कहा कि आप सरकार इसे पारित नहीं करना चाहती। वह केवल इस मुद्दे पर केवल राजनीति कर रही है। उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि वह चुनावों के दौरान दिल्ली के लोगों से किये गये वादों को पूरा करने में विफल रहे हैं।

लक्ष्मी नगर से विधायक बिन्नी ने कहा कि मुख्यमंत्री कई मौकों पर झूठ बोल चुके हैं और उन्हें पद पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है। बिन्नी का यह हमला उन खबरों के बाद आया है जिसमें कहा गया है कि केजरीवाल की तरफ से पत्र लिखकर भगवानदास रोड पर दो बंगलों की मांग की गई थी।

मीडिया में इन दोनों डुप्लेक्स बंगलों को लेकर मुख्यमंत्री की आलोचना और विवाद के बाद इसे लेने से मना कर दिया गया था। रिपोर्टों के अनुसार मुख्यमंत्री के सचिव राजेन्द्र कुमार ने 30 दिसंबर को उपराज्यपाल नजीब जंग को पत्र लिखा था, जिसमें कहा गया था मुख्यमंत्री ने भगवान दास रोड स्थित फ्लैट 6/7 और 7/7 को आवंटित करने का आग्रह किया है। यह दोनों डुप्लेक्स दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) के तहत थे।

उपराज्यपाल ने इन बंगलों को आवंटित करने का मुख्यमंत्री का आग्रह उसी दिन स्वीकार कर लिया था। बिन्नी ने कहा कि मुख्यमंत्री दिल्ली जन लोकपाल विधेयक को पारित कराना ही नहीं चाहते हैं वह तो केवल इसे लेकर राजनीति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वह केवल अन्ना हजारे वाले लोकपाल को पारित कराने में सरकार का सहयोग करेंगे।

निष्कासित विधायक ने कहा कि वह सरकार से समर्थन वापस ले रहे हैं और उपराज्यपाल से मुलाकात कर अपने निर्णय के बारे में अवगत करायेंगे।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिन्नी के निशाने पर फिर केजरीवाल, वापस लिया समर्थन