DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वर दे वीणावादिनी वर दे.. से गूंजा शहर

गया। निज प्रतिनिधि। माघ माह की पंचमी तिथि को शहर दे वीणावादिनी वर दे के जैसे मां के भक्ति गीतों से पूरा गूंजता रहा। वसंती पंचमी के मौके पर मंगलवार को विद्या की अधिष्ठात्री मां सरस्वती की आराधना श्रद्धा के साथ की गई।

वर जिले भर में धूमधाम के साथ मां शारदे की पूजा-अर्चना की गई। स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटरों में सरस्वती पूजा को लेकर विशेष तैयारी की गई थी। सुबह से शहर के शिक्षण संस्थानों में विशेष चहल-पहल रही। त्योहार को लेकर युवाओं में विशेष उत्साह रहा।

शहर में विभिन्न इलाकों में पूजा समितियों की ओर से भी मां शारदे की प्रतिमा बैठाकर पूजा-अर्चना की गई। नवयुवकों द्वारा मां हंसवाहिनी की मूर्ति बिठाकर आराधना की गई। घरों में भी लोगों ने मां शारदे की पूजा-अर्चना कर ज्ञानवर्धन और समृद्धि की कामना की।

पूजा को लेकर शहर में आज दिनभर चहल-पहल बनी रही। छात्र-छात्राओं की टोलियां रंग-बिरंगे परिधानों में घूमते-फिरतीं नजर आयीं। छोटे-छोटे बच्चों पूजा के उत्साह से लवरेज दिखे। शहर के नूतन नगर स्थित मदर्स मशिन स्कूल में वीणा वादिनी की पूजा धूमधाम से की गई।

स्कूल के निदेशक अशोक कुमार अरोड़ा के नेतृत्व में बच्चों ने सांस्कृतिक पेश किया। गुलनार महिला सिलाई सेंटर में धूमधाम से मां शारदे की आराधना की गई। इस मौके पर सेंटर की छात्राओं ने एक से बढ़कर सांस्कृतिक कार्यक्रम पेश किया।

मां सरस्वती की पूजा को लेकर मंगलवार की सुबह फल-मंडी, मिठाई और खासकर फूल-मालाओं की दुकानों पर भीड़ देखी गई। केदारनाथ मंडी में फल की खरीदारी को दोपहर तक चहल-पहल रही। माड़नपुर कपिलधारा में वसंती पंचमी सरस्वती पूजा के मौके पर नारी उत्थान समिति व संगम नवयुवक क्लब की ओर से छात्र-छात्राओं के बीच पुरस्कार वितरण पूर्व मंत्री और नगर विधायक डा. प्रेम कुमार द्वारा किया गया। धामी टोला स्थित मारवाड़ी बाल निकेतन में मां शारदे की पूजा-अर्चना की गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वर दे वीणावादिनी वर दे.. से गूंजा शहर