DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ठंड व कोहरे से जनजीवन हुआ अस्त व्यस्त

हिन्दुस्तान संवाददाता सीवान। जिले में ठंड व घने कोहरे ने लोगों की दिनचर्या बिगाड़ दी है। इसमें भी बर्फिली हवा ने लोगों का जीना ही मुहाल कर दिया है। नतीजतन लोगों का जनजीवन पूरी तरह अस्त व्यस्त हो गया है। इधर ठंड को देखते हुए डीएम के निर्देश पर डीईओ ने स्कूलों को छह फरवरी तक के लिए बंद कर दिया है।

इससे प्राइमरी व मिडिल स्कूल के बच्चों को राहत हुई। उन्हें सुबह ठंड में स्कूल जाने से राहत मिली है। हालांकि मंगलवार का सरस्वती पूजा होने से बच्चों स्कूल गए। इधर ठंड की वजह से छोटे बच्चों की मां को भी परेशानी उठानी पड़ती है। उन्हें बच्चों को तैयार कराने से लेकर नाश्ता सुबह में ही उठकर बनाना पड़ता है। इससे अब उन्हें राहत मिल गई है। हालांकि वैसे लोगों की परेशानी कम नहीं हो रही है। उन्हें घर से बाहर निकलने पर ठंड का सामना करना पड़ रहा है।

वैसे बसंत पंचमी के दिन तक ठंड खत्म होने व दिन में गर्मी का एहसास होने लगता था, लेकिन इस साल बसंत पंचमी के दिन तक ठंड इस तरह अपना कहर दिखा रहा है कि लोगों को घर से बाहर निकलने में कई बार सोचना पड़ रहा है। घर के बाहर निकलते ही ठंड के साथ हवा से परेशानी बढ़ जा रही है। इधर अभी भी जिले में न्यूनतम तापमान दस डिग्री से कम है। एक सप्ताह से तापमान दस डिग्री से ऊपर नहीं जा रहा है।

मंगलवार की सुबह तो जिला पूरी तरह कोहरा से छाया रहा। सड़क समीप में ही दिखाई नहीं दे रही थी। इससे गाडिम्यां चलाना मुश्किल हो रहा था। ड्राइवर दिन में भी लाइट जलाकर चल रहे थे। वह भी कम रफ्तार में। ज्यादा रफ्तार करने पर दुर्घटना की संभावना थी। ग्रामीण इलाके के लोग तो जरूरी काम पड़ने पर ही शहर आ रहे हैं। अगर वे आ भी रहे हैं तो जल्दी ही घर लौट जा रहे हैं। इससे शहर की सड़क सुबह व शाम में वीरान सी लगने लग रही है।

नहीं निकल रही धूपसीवान। ठंड व कोहरे के बीच धूप भी नहीं निकल रही है। लोग सुबह से ही धूप निकलने के लिए आसमान की तरफ टकटकी लगाए रहते हैं। धूप नहीं निलकने की वजह से कई तरह के घरेलू काम भी प्रभावित हो रहा है। कभी कभार देापहर में थोड़ी देर के लिए धूप निकलती है। लेकिन उससे भी लोगों को लाभ नहीं मिल पा रहा है। ठंड के आगे थोड़ी देर के लिए निकली धूप भी अनुपयोगी सावित होती है।

उससे ठंड भी कम नहीं होती है। ठंड में बीमार पड़ रहे लोगसीवान। जिले में डेढ़ माह से ठंड का प्रकोप लोग ङोल रहे हैं। लोगों को अनुमान था कि मकर संक्रांति के बाद जिले में धूप निकलने लगेगी और ठंड से राहत मिल जाएगी। लेकिन ऐसा नहीं हुआ। लोगों को लगा कि बसंत पंचमी से दिन ठीक होने लगेगा। लेकिन वसंत पंचमी के दिन मौसम और खराब हो गया और दोपहर तक जिले के कई भाग में कोहरा छाया रहा।

ठंड की वजह से लोग बीमार भी पड़ रहे हैं। बच्चों सबसे ज्यादा बीमार पड़ रहे हैं। वे सर्दी, खांसी व बुखार से पीड़ित हो रहे हैं। सामान्य लोग भी इसी तरह के रोग से पीड़ित हो रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ठंड व कोहरे से जनजीवन हुआ अस्त व्यस्त