DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार खुले बाजार में बेचेगी गेहूं,चावल

तमाम प्रयासों को अंगूठा दिखाती हुई बेलगाम महंगाई को थामने के लिए यूपीए सरकार ने जल्द ही ब्याज दरों में बढ़ोतरी समेत कुछ कठोर फैसले के पुख्ता संकेत दिये हैं। चुनावी घड़ी को ध्यान में रखते हुये सरकार ने सार्वजनिक वितरण प्रणली को और मजबूत करने के साथ ही गेहूं और चावल जसी रोमर्रा की वस्तुओं की कीमतों पर काबू पाने को इनकी बिक्री खुली बाजार में करने की भी घोषणा की है।ड्ढr ड्ढr वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम ने शनिवार को कहा कि इस साल गेहूं और धान का रिकार्ड उत्पादन हुआ है। सरकार के पास दोनों का पर्याप्त स्टॉक भी है। उन्होंने कहा कि जनता धैर्य रखे। सरकार हर संभव कदम उठा रही है। मुद्रास्फीति का ग्राफ 11 फीसदी के पार जाने से परशान सरकार अब हर ओर से सलाह ले रही है। प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शनिवार को वित्त मंत्री और रिार्व बैंक के गवर्नर वाई.वी. रड्डी से इस मसले पर चर्चा की। चिदम्बरम ने सोनिया गांधी से भी मुलाकात की। सूत्रों के अनुसार सोनिया से चिदम्बरम की मुलाकात के दौरान आम आदमी को राहत देने के लिए उठाए जाने वाले कदमों पर विचार हुआ। कांग्रेस पहले ही कह चुकी है कि भले ही आर्थिक विकास की रफ्तार धीमी पड़ जाए, लेकिन सरकार को महंगाई घटाने पर जोर देना ही होगा। वित्त मंत्री ने यह भी बताया कि सऊदी अरब में ओपेक देशों के साथ बैठक होने वाली है। इसमें कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने पर जोर दिया जाएगा, ताकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में इसकी कीमत कम हो सके। वित्त मंत्री का कहना है कि पेट्रोलियम मंत्री मुरली देवड़ा भी सऊदी अरब को पत्र लिखकर कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने का आग्रह कर चुके हैं। वहीं, सऊदी अरब ने भी कहा है कि वह हर हाल में कच्चे तेल की कीमतें घटाने के लिए जरूरी कदम उठाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सरकार खुले बाजार में बेचेगी गेहूं,चावल