DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

धार्मिक कट्टरवाद लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा

लखनऊ। धर्म या किसी अन्य विचारधारा पर आधारित कट्टरवाद भारतीय लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा है। यह कहना है पाकिस्तानी लेखक, सोशल साइंसिस्ट एवं समीक्षक रजा नईम का। वह मंगलवार को राजधानी के ख्वाजा मुईनुद्दीन चशि्ती उर्दू, अरबी-फारसी विश्वविद्यालय में मिडिल ईस्ट क्राइसेस विषय पर आयोजित व्याख्यान में बोल रहे थे। रजा नईम ने यमन, मिस्र् और ट्यूनशििया में हो रहे आन्दोलन के राजनैतिक और ऐतिहासिक विषयों पर विस्तृत चर्चा की। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि लखनऊ विश्वविद्यालय के पूर्व विभागाध्यक्ष राजनीतशिास्त्र विभाग प्रो. रमेश दीक्षित ने ने विभिन्न देशों में चल रही कम्युनिस्ट गतिविधियों की समीक्षा की।

उन्होंने कहा कि अमेरिका जैसे प्रभावी देश अल-कायदा और ऐसी अन्य संस्थाओं द्वारा रूढिम्वादिता को बढ़ावा दे रहे हैं, ऐसे में भारत को इस घुसपैठ से सचेत रहना चाहिए। इस अवसर पर विवि के कुलपति डॉ. अनीस अंसारी, डॉ. तनवीर खदीजा समेत भारी संख्या में छात्र व शिक्षक मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:धार्मिक कट्टरवाद लोकतंत्र के लिए बड़ा खतरा