DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कंप्यूटर की हार्ड-डिस्क का धरना

एक कार-निर्माता ने अपनी कार का नाम शरद पवार के नाम पर रखने का फैसला किया- ‘एसपी स्पेशल।’ कार में लगे टेलीविजन में खबरें आ रही थीं कि शरद पवार ने कहा कि राजनीति में कोई अछूत नहीं है और मोदी को कोर्ट ने बरी कर दिया है। फिर खबर आई कि पवार की पार्टी का कांग्रेस से सीट-समझौता कुछ दिनों में हो जाएगा।  खैर, ‘एसपी स्पेशल’ कार में पवार साहब की महानता की प्राण-प्रतिष्ठा हुई और कार स्टार्ट हुई, नॉर्मल गियर डाला, तो कार आगे चलनी चाहिए थी, कार पीछे को चलने लगी। मैं घबराया, मैंने कार का बैक गियर लगाया, तो कार आगे की ओर भागने लगी। लेफ्ट इंडीकेटर दिया, मुझे लेफ्ट में मुड़ना था, मगर कार राइट में मुड़ गई। मित्र उखड़कर वहीं उतर गया और बोला- पवार साहब देश चलाएं, तो हम अफोर्ड कर सकते हैं, मगर उनकी महानता से प्राण-प्रतिष्ठित कार भी वैसे ही चलने लगे, तो मर लेंगे।

सॉफ्टवेयर बनाने वाली एक कंपनी ने नए सॉफ्टवेयर का नाम हमारे देश के एक युवा नेता पर रखा- आरजी न्यू। सॉफ्टवेयर कंप्यूटर पर लोड हुआ, मैंने कंप्यूटर-सिस्टम के बारे में विस्तार से जानने के लिए कमांड्स दीं, तो मैसेज उभरा-सूचना हासिल करने के लिए आरटीआई डालें। हम सिस्टम सुधार रहे हैं, चीजें प्रोसेस में हैं, इंपावरमेंट, होलिस्टिक, फंडामेंटल। मैंने टाइप किया- इन बातों का मेरे कंप्यूटर से क्या ताल्लुक है? जवाबी मैसेज था- आरटीआई से पता करें। और कंप्यूटर बंद हो गया। तीसरे उद्योगपति ने अपने नए कंप्यूटर का नाम रखा- आम आदमी कंप्यूटर। आम आदमी पार्टी के नेताओं की महानता की प्राण-प्रतिष्ठा कंप्यूटर में की गई। कंप्यूटर ऑन किया, तो की-बोर्ड छिटककर गिर पड़ा। स्क्रीन पर मैसेज आया- की-बोर्ड का धरना। नाराज होकर कंप्यूटर को हिलाया, तो हार्ड डिस्क बाहर कूदी। स्क्रीन पर लिखा आया- हार्ड डिस्क का धरना। हर कमांड पर कंप्यूटर का एक-एक आइटम कूदकर धरने पर हो गया। तो बात यह समझ में आई कि नेतागिरी के स्टाइल में यह देश ही चल सकता है, कार, सॉफ्टवेयर या कंप्यूटर नहीं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कंप्यूटर की हार्ड-डिस्क का धरना