DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वैश्विक खाद्य उत्पादन को बड़े पैमाने पर बढ़ाना होगा: राष्ट्रपति

वैश्विक खाद्य उत्पादन को बड़े पैमाने पर बढ़ाना होगा: राष्ट्रपति

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने आज कहा कि वैश्विक खाद्य उत्पादन को बड़े पैमाने पर बढ़ाना होगा क्योंकि विश्व में एक अरब लोग अभी भी गरीबी में जी रहे हैं और इनमें अधिकांशत: एशिया और अफ्रीका में है। उद्योग संगठन फिक्की द्वारा आयोजित, एशिया अफ्रीका कृषि व्यवसाय फोरम का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा कि बढ़ती मांग के साथ तालमेल रखने के लिए वैश्विक खाद्य उत्पादन को वर्ष 2030 तक 40 प्रतिशत बढ़ाना होगा।

राष्ट्रपति ने कहा कि एशिया में वर्ष 2030 तक कृषि एवं कषि व्यवसाय 4500 अरब डालर का होने का अनुमान है जबकि अफ्रीका में यह 3000 अरब डालर का उद्योग होने का अनुमान है। हालांकि इन महाद्वीपों में कषि व्यवसाय का विकास अभी बाधित है। उन्होंने कहा कि एक अरब लोग, जो वैश्विक आबादी का 14 प्रतिशत है, अभी भी भूख से त्रस्त है। इनमें से ज्यादातर एशिया और अफ्रीका में हैं। यह स्थिति आगे नहीं चल सकती। उन्होंने कहा कि खाद्य उत्पादन बढ़ाने का कार्य असाधारण तरीके से युद्ध स्तर पर चलाने की जरूरत है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वैश्विक खाद्य उत्पादन को बड़े पैमाने पर बढ़ाना होगा: राष्ट्रपति