DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आजादपुर में आढ़तियों की हड़ताल समाप्त

आजादपुर में आढ़तियों की हड़ताल समाप्त

एशिया की सबसे बड़ी थोक फल एवं सब्जी मंडी आजादपुर में आढ़तियों (कमीशन एजेंट) की एक दिन की हड़ताल समाप्त हो गई है। दिल्ली सरकार के इस आश्वासन के बाद हड़ताल वापस ली गयी है कि वह उनकी मांगों पर गौर करेगी।

आढ़तियों के एक तबके ने हड़ताल का आह्वान किया था। कृषि उत्पाद बाजार समिति (एपीएमसी), आजादपुर द्वारा पिछले महीने जारी परिपत्र के विरोध में हड़ताल का आह्वान किया गया था। इसमें कमीशन एजेंटों से दिल्ली उच्च न्यायालय के उस आदेश का अनुपालन करने को कहा गया है जिसमें किसानों से वसूले जाने वाले 6 प्रतिशत कमीशन को समाप्त करने की बात कही गई है।

एपीएमसी के सदस्य राजेन्द्र शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार के साथ बैठक के बाद कल रात हड़ताल वापस ले ली गई। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इन एजेंटों की मांग पर विचार करने के लिये एक समिति गठित करेगी।

शर्मा ने कहा कि एक दिन की हड़ताल से कीमतों पर असर नहीं पड़ा है। हालांकि हो सकता है कि खुदरा दुकानदार उपभोक्ताओं से ज्यादा दाम वसूले हों। अंगूर तथा किन्नू जैसे फलों का कारोबार करने वाले कुछ कमीशन एजेंट कल हड़ताल पर थे और उनकी दुकानें बंद रही।

मुख्य रूप से फलों के कारोबार से जुड़े करीब 400 एजेंट हड़ताल पर थे जबकि आलू, प्याज, लहसुन तथा अन्य सब्जियों के कारोबार से संबद्ध 500 एजेंट तथा 300 छोटे व्यापारी हड़ताल में शामिल नहीं थे। हाल के फैसले में दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा है कि आढ़तियों को उत्पाद के मूल्य का 6 प्रतिशत कमीशन थोक खरीदारों से लेने की अनुमति होगी न कि किसानों से।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आजादपुर में आढ़तियों की हड़ताल समाप्त