DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ई पंजीयन के खिलाफ जारी है अभियान

अम्बेडकरनगर। हिन्दुस्तान संवाद। टैक्स बार एसोसिएशन की ओर से ई पंजीयन और ई संचरण के विरोध में किया जा रहा आंदोलन जारी है। सोमवार को भी कार्य से विरत टैक्स बार एसोसिएशन के अधविक्ताओं ने वाणिज्य कर कार्यालय पर धरना दिया। अगुवाई जिला टैक्स बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राजेश्वर उपाध्याय ने की।

बाद में डीएम के जरिए मुख्यमंत्री को आठ सूत्रीय ज्ञापन भेजा। वाणिज्य कर कार्यालय पर धरना देने के दौरान अधविक्ताओं ने शासन पर उपेक्षा का आरोप लगाया। कहा कि अपरिपक्व व्यवस्था थोप कर कर दाताओं और अधविक्ताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। इसे बर्दास्त नहीं किया जाएगा। दोपहर में वाणिज्य कर कार्यालय से कलेक्ट्रेट तक वाहन जुलूस निकाला गया और अध्यक्ष राजेश्वर उपाध्याय की अगुवाई में प्रदर्शन कर डीएम को मुख्यमंत्री के संबोधन वाला ज्ञापन दिया गया। मुख्य रूप से मंत्री दीपक श्रीवास्तव, ज्वाइंट सेक्रेटरी अतुल कुमार श्रीवास्तव, रामप्रसाद अग्रवाल, महेश प्रताप श्रीवास्तव, गोपालजी शुक्ल, अजय कुमार त्रिपाठी, श्रीनारायण श्रीवास्तव, शत्रुजीत तिवारी, अनिल रंजन त्रिपाठी, विजय कुमार मिश्र, वीपी सिंह, शशि प्रकाश सिंह, आरएन पटेल, जमीरूल हसन, गुन्नूलाल वर्मा, राजेंद्र वर्मा, मनोज तिवारी व अन्य शामिल रहे।

सीएम को भेजे ज्ञापन में ई पंजीयन व्यवस्था समाप्त करने, पुरानी व्यवस्था लागू करने, ई संचरण की व्यवस्था समाप्त करने, वैट के मद से टीडीएस काटने की व्यवस्था समाप्त करने, टीडीएस में कम दर या शून्य दर का परिपत्र वापस लेने, खरीद और बिक्री के करारोपण विधान में संशोधन करने, फर्म के मालिक की मृत्यु की दशा में धारा 75 में संशोधन का प्रविधान करने, उत्तराधिकारी को अवशेष आईटीसी देने का प्राविधान करने,अन्य प्रांतो के समान कर की दर लागू करने, अनाज पर वैट समाप्त करने, अनाधिकृत प्रतिनिधित्व पर प्रभावी रूप से कड़ाई से रोक लगाने, प्रश्रय दाता व्यक्ति, अधिकारी, कर्मचारी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने की गई है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ई पंजीयन के खिलाफ जारी है अभियान