DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कठौता झील में बचा सिर्फ ढाई मीटर पानी

लखनऊ। वरिष्ठ संवाददाता। कठौता झील में सिर्फ ढाई मीटर पानी बचा है। बताया जा रहा है 17 दिनों से शारदा नहर से पानी नहीं छोड़ा गया है। इस कारण इंदिरानगर और गोमतीनगर में रहने वाली लाखों की आबादी प्रभावित हो सकती है। जलकल विभाग के अधिकारी सिंचाई विभाग के अधिकारियों से सम्पर्क कर जल्द नहर से पानी छोडे़ जाने की मांग कर रहे हैं।

अधिकारियों के मुताबिक झील में बचे पानी से केवल हफ्ते भर तक सप्लाई दी जा सकती है। जलकल विभाग के अधिकारी कठौता झील में पानी कम होने की बात दबाने में लगे हुए थे। मामला तब खुला जब रविवार शाम से सोमवार सुबह तक इंदिरानगर डी ब्लाक में पानी का संकट रहा। स्थानीय लोगों ने जब अधिकारियों पर दबाब बनाया तो उन्होंने कठौता झील में पानी कम होने की बात स्वीकार की। झील में ढाई मीटर से थोड़ा ज्यादा पानी है जिससे हफ्ते भर तक और सप्लाई की जा सकती है।

पानी कम होने की वजह से सुबह, दोपहर और शाम को दी जाने वाली सप्लाई में भी कटौती कर दी गई है। हालत नाजुक न हों इसके लिए जलकल अधिकारी गोमतीनगर और इंदिरानगर नविासियों को पर्याप्त मात्रा में पानी की सप्लाई देने की व्यवस्था में जुट गए हैं। जलकल विभाग के अधिकारियों ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को पत्र लिखकर जल्द पानी छोड़ने की मांग की है। सूत्रों के मुताबिक किसानों की मांग नहीं होने की वजह से सिंचाई विभाग ने शारदा नहर का पानी बंद कर रखा है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कठौता झील में बचा सिर्फ ढाई मीटर पानी