DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विधवा से शादी करने पर पांच को मिली प्रोत्साहन राशि

गोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता। विधवाओं से शादी करने पर जिले के चार युवकों और एक अधेड़ को विधवा पुनर्विवाह योजनान्तर्गत प्रति लाभर्थी ग्यारह हजार रुपए के हिसाब से डीएम ने 55 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि स्वीकृति की है। इस धन को उनके खाते में भेज दिया गया है। इन पांच लोगों में से दो ने वर्ष 2011 में शादी की थी तो इतने ने ही वर्ष 2013 में जबकि एक ने वर्ष 2012 शादी की थी। शादी के बाद उन्होंने प्रोत्साहन राशि के लिए आवेदन किया था।

जिन लोगों को लाभ मिला है उनमें लालचन्द्र निवासी सहसी तहसील खजनी, अजय कुमार सिंह निवासी पाली तहसील सहजनवा, मूलचन्द साहनी निवासी बगही भारी तहसील कैम्पियरगंज, श्रवण कुमार निवासी जटेपुर उत्तरी तहसील सदर, रामगोविन्द निवासी कुकरहा तहसील गोला को यह प्रोत्सान राशि मिली है।

ऐसे मिलता है लाभ विधवा से शादी करने पर सरकार प्रति व्यक्ति के हिसाब से 11 हजार की प्रोत्साहन राशि देती है। इसके लिए शादी के बाद जिला प्रोबेशन कार्यालय में आवेदन करना होता है। आवेदन के साथ शादी का कार्ड भी लगाना होता है।

बाद में इसकी विभाग जांच करता है और गांव के प्रधान व अन्य लोगों से बयान लेने के बाद इस आवेदन को स्वीकृत करता है। निराश्रित विधवाओं की बेटियों को शादी के लिए मिला पैसा- नौ निराश्रित विधवाओं ने आर्थिक मदद के लिए किया था आवेदन- लेखपाल की जांच और कमेटी की संस्तुति पर मिलता है धनगोरखपुर। वरिष्ठ संवाददाता निराश्रित विधवाओं को अपनी पुत्रियों की शादी के लिए जिला प्रोबेशन अधिकारी ने 90 हजार रुपए उनके खाते में भेज दिया।

जिला प्रोबेशन अधिकारी ने यह जानकारी दी। जिन लोगों को यह लाभ दिया गया है उनमें बांसगांव तहसील के भीटी तिवारी की राधिका पाण्डेय, इसी तहसील के देवरिया गांव की रमावती, बांसगांव वार्ड नम्बर आठ की वमिला देवी तथा गुआर गांव की लक्ष्मीना के अलावा खजनी तहसील की बुदहट घोटवा गांव की फूलमती, रजवल गांव मंजू देवी, सहजनवां तहसील के पाली गांव की सुशीला देवी, कररिया गांव की हाजरा देवी और रामडीह तोड़नी गांव सावित्री देवी को दस-दस हजार रुपए दिए गए हैं।

...ऐसे मिलता है लाभ विधवा महिलाओं को उनकी बेटियों की शादी के लिए प्रति लाभार्थी दस हजार रुपए की सहायता दी जाती है। विधवा महिला जिनके आगे-पीछे कोई नहीं होता है, उनकी बेटी की शादी में सहायता के लिए जिला प्रोबेशन अधिकारी के यहां आवेदन करना होता है। लेखपाल उनकी जांच कर रिपोर्ट डीएम की अध्यक्षता में बनी कमेटी को सौंपेगा और वह कमेटी धन स्वीकृति कर देगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:विधवा से शादी करने पर पांच को मिली प्रोत्साहन राशि