DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नकली नोटों का तस्कर गिरफ्तार

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। नकली नोटों के अंतरराष्ट्रीय नेटवर्क से जुड़े एक तस्कर को डीआरआई ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। दिलीप कुमार नाम के तस्कर को अरेराज जाते वक्त बस में दबोचा गया। उसके पास से 3.38 लाख के नकली नोट मिले हैं। अधिकारियों के मुताबिक दिलीप लंबे समय से नकली नोटों की तस्करी में लिप्त है।

डीआरआई के डिप्टी डायरेक्टर डॉ. विद्युत विकास को सूचना मिली कि पश्चिमी चंपारण स्थित नौतन थाने के दक्षिण तेलुआ का रहनेवाला दिलीप कुमार नकली नोटों की तस्करी करता है। वह बांग्लादेश के रास्ते आए नकली नोटों की खेप लेकर अरेराज की ओर जानेवाला है। सूत्रों के मुताबिक पश्चिम बंगाल से नोट लेकर दिलीप ट्रेन से कटहिार होते मुजफ्फरपुर पहुंचा था। उसके बाद वह मोतहिारी से अरेराज जानेवाली बस में सवार हुआ। डीआरआई की टीम ने मटियरवा चौक के पास उसे दबोच लिया।

घुटनों के पीछे छुपा रखे थे नोट दिलीप ने चकमा देने के लिए गजब की तैयारी की थी। उसने घुटनों पर निक (फुटबॉल खिलाड़ी पहनते हैं) लगा रखे थे। नोटों को दोनों पैर के घुटनों के पीछे निक में छुपाकर रखा था। एक निक में उसने दो लाख और दूसरे में 1.38 लाख के नकली नोट छुपा रखे थे। 328 नोट हजार व 20 पांच सौ के नोट थे। खपा चुका है एक करोड़ से ज्यादा के नोटपूछताछ के दौरान दिलीप ने चौंकाने वाले खुलासा किया।

बताया, वह चार दफे नकली नोट की खेप इससे पहले भी ला चुका है। एक करोड़ से ज्यादा के नकली नोटों की सप्लाई उसने बिहार के अलावा गुजरात, हरियाणा, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के विभिन्न इलाकों में की है। जांच से जुड़े अधिकारियों के मुताबिक दिलीप नकली नोटों के उस अंतरराष्ट्रीय सिंडिकेट का हिस्सा है जो पाकिस्तान और बांग्लादेश से जुड़ा है। उसके पास से बरामद नोट हाई क्वालिटी के हैं और सामान्यत: उसे पहचानना मुश्किल है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नकली नोटों का तस्कर गिरफ्तार