DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरेशाह छेड़ा, विरोध पर पूरे परिवार को पीटा

हिन्दुस्तान टीम पटना/फुलवारीशरीफ। बाजार से घर लौट रही जेडी वीमेंस कॉलेज की छात्रा के साथ सरेराह कुछ लफंगों ने छेड़खानी की। यही नहीं, विरोध करने पर लफंगों ने गुंडई दिखाते हुए पूरे परिवार को जमकर पीटा। इसमें छात्रा के पिता जख्मी हो गए।

घटना रविवार की देर शाम बेउर थाना क्षेत्र के साईचक मोहल्ले में हुई। सोमवार की सुबह पीड़ित परिवार की सूचना पर पहुंची पुलिस ने तफ्तीश शुरू कर दी है। पीड़िता के बयान पर आरोपित दीपक व उसके पिता सुरेश राम समेत अन्य लोगों के खिलाफ छेड़खानी व मारपीट की प्राथिमकी दर्ज हुई है। घटना के बाद से सभी फरार हैं। लौट रही थी बाइक सेछात्रा के मुताबिक, रविवार देर शाम गर्दनीबाग से बाजार करने के बाद अपने भाई के साथ मोटरसाइकिल से घर लौट रही थी।

साईचक मोहल्ले में पहुंचते ही दीपक व एक अन्य लड़का फबि्तयां कसते हुए उससे छेड़खानी करने लगा। विरोध करने पर दोनों गाली-गलौज करने लगे। उसके बाद लफंगों ने उसके माता-पिता, छोटी बहन व भाई की जमकर पिटाई की।

बीच-बचाव करने पहुंचे उसके किरायेदार को भी आरोपितों ने लात-घूसों से पीटा। सूचना के बाद भी नहीं पहुंची पुलिस पीड़िता ने बताया कि घटना के बाद सभी लोग घर में बंद हो गए। घटना की जानकारी देने के लिए रात में कई बार बेउर थाने को फोन किया गया, लेकिन पुलिस नहीं आयी।

लफंगों के डर से पूरा परिवार रात भर एक कमरे में बंद था। सोमवार की सुबह पुलिस के आने के बाद हमलोग थाने गए। पुलिस को छात्रा ने बताया कि कॉलेज से घर आते-जाते दीपक उस पर फब्तियां कसता है।

रविवार को तो उसने हद ही पार कर दी और सरेराह छेड़खानी करने लगा। छात्रा ने बताया कि सुबह में केस दर्ज कराने के बाद सभी आरोपित उसके घर पर आकर गाली-गलौज कर रहे हैं। पुलिस की नजर में आरोपित फरार हैं, लकिन वे लोग बराबर केस उठाने की धमकी दे रहे है।

केस नहीं हटाने पर अंजाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं। जांच में जुटी पुलिस प्रथम दृष्टया मामला पहले के विवाद का लगता है। उस दिशा में भी जांच की जा रही है। केस दर्ज करने के बाद से सभी आरोपित फरार हैं। उनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। -अजय कुमार , थानाध्यक्ष बेउर।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सरेशाह छेड़ा, विरोध पर पूरे परिवार को पीटा