DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कृषि पर कब्जा जमाना चाह रहे कॉरपोरेट घराने

आरा। निज प्रतिनिधि। गड़हनी प्रखण्ड के लभुआनी गांव में सोमवार को अखिल भारतीय किसान महासभा का प्रखण्ड सम्मेलन सम्पन्न हुआ। सम्मेलन में किसानों की स्थिति पर चर्चा करते हुये कहा कि गया कि वर्तमान परिवेश में खेत, खेती और किसान पर संकट के बादल छाये हुये हैं। सम्मेलन को संबोधित करते हुये किसान सभा के प्रांतीय सचवि सुदामा प्रसाद ने कहा कि राज्य व केन्द्र सरकार की मिलीभगत से देशी व विदेशी कारपोरेट घराने कृषि पर कब्जा जमाना चाह रही है।

इसको लेकर देश में पानी, खाद और बीज का कृत्रिम अभाव पैदा किया जा रहा जिससे किसान खेती करना छोड़ दे। उन्होंने कहा कि कारपोरेट घराने उसी खेत से अपना अनाज उपजाकर महंगे दाम पर बेचने की षड़यंत्र कर रहे हैं।

किसान नेता ने कहा कि देश की 45 लाख एकड़ कृषि योग्य भूमि का अधिग्रहण कर लिया गया है। इस अवसर पर आगामी 17 फरवरी को आरा में आयोजित जनदावेदार रैली को सफल बनाने के लिए अधिक से अधिक संख्या में जुटने का आह्वान किया गया।

इस दौरान क्षेत्र के किसानों की ज्वलंत समस्याओं को लेकर आंदोलन करने के लिए सात सदस्यीय प्रखण्ड कमेटी का गठन किया। रामायण यादव को कमेटी का अध्यक्ष और शविमंगल सिंह को सचवि बनाया गया। सम्मेलन की अध्यक्षता रामायणयादव, शिवमंगल सिंह और मुमताज अंसारी ने संयुक्त रूप से की। सम्मेलन में टेंगर राम और अवधेश पासवान सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कृषि पर कब्जा जमाना चाह रहे कॉरपोरेट घराने