DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वार्ता के बाद भी नहीं निकला हड़ताल का समाधान

आरा। एक संवाददाता। नगर निगम के कर्मियों की हड़ताल तीसरे दिन भी जारी रही। सोमवार को देर शाम प्रशासन के साथ कर्मियों के बीच हड़ताल के मसले पर हुई वार्ता से कोई समाधान नहीं निकल सका। निगम कर्मी अपनी मांग पर अड़े रहे।

छठे वेतन से कम पर निगम के कर्मचारी वार्ता के लिए तैयार नहीं दिखे। सोमवार को देर शाम सदर एसडीओ माधव कुमार सिंह, एक्जीक्यूटवि मजिस्ट्रेट मुश्ताक अहमद, नगर इंस्पेक्टर बी.के.सिंह चौहान और नवादा थाना इंस्पेक्टर एम.पी.सिंह हड़ताली कर्मियों से वार्ता के लिए नगर निगम पहुंचे।

अधिकारियों ने निगम कर्मचारी संघ के अध्यक्ष अशोक कुमार नाटा के साथ वार्ता की। इस मौके पर सिटी मैनेजर त्रिपुरारी शरण संजय भी मौजूद थे। अधिकारियों ने कहा कि पूजा को देखते हुए हड़ताल को स्थगति किया जाय ताकि शहरवासी गंदगी के बदले स्वच्छ वातारवरण में त्योहार मना सके।

कर्मियों की ओर से वार्ता में शामिल संघ के अध्यक्ष ने अन्य कर्मियों और संघ के अधिकारियों से बात करने के बाद ही किसी निर्णय की बात कही। तय हुआ कि त्योहार को देखते हुए दैनिक सफाई मजदूरों से शहर की मुख्य सड़कों की सफाई सोमवार को देर रात और मंगलवार की सुबह करायी जायेगी।

इधर निगम कर्मचारी संघ के सचवि अमरनाथ प्रसाद ने कहा कि छठे वेतन की मांग के बिना हड़ताल को नहीं तोड़ा जायेगा। सचिव से मेयर सुनील कुमार ने भी वार्ता की पहल की है। कहा है कि शहर से बाहर होने के कारण वार्ता नहीं हो पा रही है। शहर में पहुंचने के साथ ही वार्ता की जायेगी।

सोमवार को निगम के सैकड़ों कर्मियों ने मेन गेट पर धरना-प्रदर्शन किया। प्रशासन के विरोध में नारेबाजी की। हड़ताल नहीं टूटने के कारण शहर के वार्डो में सफाई का काम नहीं हो सकेगा।

गंदगी के बीच लोगों को त्योहार मनाना पड़ेगा। प्रशासन ने महाबीरी झंडा के कार्यक्रम को देखते हुए मुख्य सड़क की सफाई की व्यवस्था कराने की अपील की है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वार्ता के बाद भी नहीं निकला हड़ताल का समाधान