DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सात नए आंगनबाड़ी केंद्र बनाए जाएंगे

एटा। हिन्दुस्तान संवाद। जर्जर हो चुके आंगनबाड़ी केंद्रों के भवनों के निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। शासन ने जिले के सात आंगनबाड़ी केंद्रों पर नए भवनों के लिए बजट दिया है। जल्द ही इनका निर्माण शुरू किया जाएगा। इसके लिए समाज कल्याण निर्माण निगम को जिम्मेदारी दी गई है। जिला कार्यक्रम अधिकारी बीना सिंह सोलंकी ने बताया कि इसके लिए पिछले वर्ष ही प्रस्ताव बनाकर भेजा गया था।

लेकिन बजट को लेकर निर्माण निगम व शासन के बीच बजट को लेकर कुछ असहमति थी। उनका कहना था कि महंगाई को देखते हुए इतने बजट में निर्माण कार्य कराना काफी कठिन है। अब इस मुद्दे पर शायद सहमति बन गई है। जल्द ही इस तरफ कार्य शुरू हो सकेगा। नए भवन जिन क्षेत्रों में बनाए जा रहे हैं उनमें अलीगंज के गांव लाड़मपुर कटारा, जैथरा के गांव जयसिंह पुर, जलेसर काजीपुर बदलपुर, शीतलपुर के ककरावली, सकीट के दस्तपुर कुंजपुर, निधौलीकला के बरई व अवागढ़ के बड़ावली गांव स्थित आंगनबाड़ी केंद्र शामिल हैं।

इनके लिए प्रधानों के प्रस्ताव पर जमीन मिली है। जो भी जर्जर भवन बचे हैं उनके लिए भी प्रस्ताव जल्द बनाया जाएगा। ताकि इनका भी समय के अंदर निर्माण कराया जा सके। निर्माण निगम के अधिकारियों ने सर्वे कर अपनी रिपोर्ट भी प्रशासन को दे दी है। प्रति आंगनबाड़ी केंद्र के भवन के निर्माण में करीब साढ़े चार लाख रुपए का बजट दिया गया है। जिसको लेकर असहमति बनी थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सात नए आंगनबाड़ी केंद्र बनाए जाएंगे