DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पांच पुलिसवालों पर लटकी हाईटेक सट्टे की तलवार

देहरादून। वरिष्ठ संवाददाता। पटेलनगर में पिछले दिनों पकड़े गए हाईटेक सट्टे की तलवार पांच पुलिसवालों पर भी लटक रही है। ये पुलिसवाले कई साल से थाने में डटे हैं। खास बात यह है कि इन पुलिसवालों को चीता, बीट और पिकेट डय़ूटी तक नहीं दी जाती। क्षेत्र में चल रहे कई काले-कारोबार में इनका सीधा हाथ। जिन्हें कुछ अधिकारियों की सीधे शह मिली हुई थी। बुधवार रात एसटीएफ ने पटेलनगर के दो अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी कर हाईटेक सट्टा पकड़ा था।

इसमें कुल 15 लोग पकड़े गए थे। जिसकी गाज इंस्पेक्टर पटेलनगर एमपी सैनी के साथ ही बाजार चौकी इंचार्ज नरेंद्र ठाकुर और दारोगा अमन चढ्ढा पर गिरी थी। पूरे प्रकरण की जांच एसपी सिटी नवनीत भुल्लर को दी गई थी। इसमें अब तक कई लोगों से पूछताछ हो चुकी है। जांच के साथ ही हाईटेक सट्टे की कई परतें खुल रही हैं। बताया जा रहा है कि थाने में तैनात पांच पुलिसवालों की भूमिका सबसे ज्यादा संदिग्ध हैं। जो पिछले लंबे समय से थाने में जमे हैं।

थाना क्षेत्र में ही नौकरी के साथ ही इनके और कारोबार भी चल रहे हैं। इन्होंने काफी प्रॉपर्टी भी यहां बनाई हुई है। इंस्पेक्टर और दारोगा के बयान सोमवार को एसपी सिटी नवनीत भुल्लर ने इस मामले में इंस्पेक्टर एमपी सैनी और बाजार चौकी इंचार्ज नरेंद्र ठाकुर के बयान दर्ज किए। इसके अलावा हाईटेक सट्टा संचालक और दारोगा के साले ने भी लिखित में बयान एसपी सिटी को दिए हैं। बताया जा रहा है कि आरोपी ने सट्टे के खेल में पुलिसवालों की मिलीभगत और रुपयों के खेल का राज खोला है।

एसपी सिटी ने बताया कि आरोपित को बयान दर्ज कराने के लिए बुलाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पांच पुलिसवालों पर लटकी हाईटेक सट्टे की तलवार