DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पानी घोटाले पर शीला के खिलाफ होगी जांच

नई दिल्ली। समरजीत सिंह। दिल्ली सरकार पानी घोटाले मामले पर भी दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित के खिलाफ जांच करेगी। इस मामले में कांग्रेस की पूर्व मुख्यमंत्री के खिलाफ कार्यवाही कराने की तैयारी सरकार ने कर ली है। सूत्रों के मुताबिक इस मामले में दिल्ली सरकार शीला दीक्षित के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज करा सकती है। एफआईआर में पूर्व मुख्यमंत्री पर जानबूझकर पानी के निजीकरण को बढ़ावा देने और पानी के वितरण को निजी हाथों में देने जैसे आरोप लगाए गए हैं।

सूत्रों का कहना है कि इस मामले में शीला को टैंकर माफिया को अप्रत्यक्ष रूप से लाभ पहुंचाया गया है। पार्टी के एक बड़े नेता के अनुसार शीला दीक्षित पर विभिन्न मामलों में एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी है जिसके तहत अवैध कॉलोनी के मामले के साथ-साथ पानी आपूर्ति को निजी हाथों में देने जैसे फैसले भी मुख्य रूप से शामिल हैं। इस मामले में इस बात की भी जांच की जाएगी कि पानी की आपूíत कागजों में कुछ और दिखाई जाती थी जबकि लोगों तक उतनी पानी की आपूíत नहीं पहुंचती थी।

इसके अलावा पाइपलाइन बिछाने में हुई अनियमितताओं की भी जांच की जाएगी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पार्टी एक हफ्ते में पानी के निजीकरण से होने वाले नुकसान को लेकर शीला दीक्षित के खिलाफ जांच आयोग का गठन करेगी। खास बात यह है कि आम आदमी पार्टी ने चुनाव से पहले दिल्ली की जनता से वादा किया था कि वह सरकार बनाने के बाद दिल्ली के सभी भ्रष्टनेताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करते हुए उन्हें जेल में डालेंगे। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार शीला दीक्षित के बाद कांग्रेस के कुछ अन्य नेताओं के खिलाफ भी जांच के आदेश दिए जा सकते हैं।

दिल्ली सरकार राष्ट्रमंडल खेलों में हुए घोटालों को लेकर भी शीला दीक्षित के खिलाफ जांच के आदेश दे सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पानी घोटाले पर शीला के खिलाफ होगी जांच