अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘क्रांति देख देखकर क्रिकेट में कर दी क्रांति’

पूर्व आेपनर और 1विश्व विजेता टीम के सदस्य कृष्णामाचारी श्रीकांत ने कहा कि उन्होंने क्रांति फिल्म देख देखकर क्रिकेट जगत में क्रांति कर दी और फाइनल में वेस्टइंडीज जैसी दिग्गज टीम को हराने में कामयाब रहे। श्रीकांत ने 1विश्वकप विजय के 25 वर्ष पूरे होने के अवसर पर संवाददाताओं से कहा कि चूंकि मुझे हिन्दी कम आती थी। इसलिए मेरे रूममेट यशपाल शर्मा मुझे हिन्दी सिखाने के लिए क्रांति फिल्म दिखाते। लेकिन इस फिल्म से प्रेरणा लेकर मैंने विश्वकप जीतने का जबा पाला और यह सफल हुआ। उन्होंने कहा कि क्रांति फिल्म देखने के बाद हम केवल क्रांति करने के बारे में ही सोचने लगे और हमने क्रिकेट जगत में क्रांति की, वेस्टइंडीज जैसे दिग्गज टीम को धूल चटाकर। इसके बाद तो हमारी क्रिकेट की दशा और दिशा दोनों बदल गई। उन्होंने कहा कि कपिल देव, सुनील गावस्कर, मोहिंदर अमरनाथ, बलविंदर सिंह संधू, संदीप पाटिल जैसे किरदारो से सजी इस फिल्म में सब नायक थे, सब विजेता थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ‘क्रांति देख देखकर क्रिकेट में कर दी क्रांति’