DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सिर पर बंदूक तानने से वार्ता संभव नहीं: इजरायल

सिर पर बंदूक तानने से वार्ता संभव नहीं: इजरायल

फिलीस्तीन से शांति समझौता न करने की स्थिति में इजरायल पर आर्थिक प्रतिबंध लगाने की अमेरिकी धमकी की इजरायल ने कड़े शब्दों में निंदा की है और कहा है कि सिर पर बंदूक तानने से शांति वार्ता नहीं होती है।

जॉन केरी ने जर्मनी के म्यूनिख में कल हुई बैठक के दौरान कहा था कि अगर फिलीस्तीन के साथ शांति वार्ता सफल नहीं होती है तो इससे इजरायल के खिलाफ अभियान में तेजी आ जायेगी। केरी ने कहा कि लोग इजरायल और फिलीस्तीन के मुद्दे पर काफी संवदेनशील हैं और वे इजरायल का आर्थिक रूप से बहिष्कार करने और अन्य प्रतिबंध लागू करने की बात कर रहे हैं।

पश्चिमी तट पर यहूदी बस्तियों को अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत अवैध माना जाता है। इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतान्याहू ने कल भी केरी के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये कहा है कि इजरायल का बहिष्कार करने से लक्ष्य की प्राप्ति नहीं हो सकती है। बहिष्कार की बात पूरी तरह अन्यायपूर्ण और अनैतिक है।

नेतान्याहू के मंत्रिमंडल ने केरी पर यहूदी विरोधी होने का आरोप लगाया है। मंत्रिमंडल का कहना है कि केरी इजरायल पर प्रतिबंध लगाने की कवायद करके यहूदी विरोधी अभियान को बढ़ावा दे रहे हैं। केरी का बयान ऐसे समय में आया है, जब यूरोपीय संघ ने पश्चिमी तट पर स्थित इजरायली व्यावसायियों से किसी प्रकार का कोई व्यापारिक संबंध रखने पर रोक लगा दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सिर पर बंदूक तानने से वार्ता संभव नहीं: इजरायल