DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गरीबों का मजाक उड़ाने पर माफी मांगें मोदी: अजय माकन

गरीबों का मजाक उड़ाने पर माफी मांगें मोदी: अजय माकन

कांग्रेस ने गुजरात में गरीबी रेखा को दस रुपये अस्सी पैसे तक छोटा किए जाने को लेकर आज मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी पर जोरदार हमला किया और उनसे पूछा कि गरीबी की परिभाषा को लेकर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और योजना आयोग का मजाक उडाने वाले भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार अब देश के साथ कौन सा मखौल कर रहे हैं। 
      
कांग्रेस महासचिव अजय माकन ने गरीबी रेखा के मुद्दे पर मोदी को घेरने के लिए विशेष रूप से संवाददाता सम्मेलन बुलाया और मांग की कि गरीबों का उपहास उडाने के लिए मोदी को माफी मांगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि गुजरात के नागरिक आपूर्ति विभाग ने गरीबी रेखा की नई परिभाषा दी है, जिसमें दस रुपये अस्सी पैसे से कम आमदनी वाले परिवार को गरीब के दायरे में रखा गया है।

उन्होंने कहा कि 7 सितंबर को मोदी ने रायपुर में लाल किले की झांकी बनाकर उसके सामने दिए गए सम्बोधन में केंद्र सरकार द्वारा तय गरीबी रेखा की परिभाषा को लेकर प्रधानमंत्री और योजना आयोग का उपहास उडाया था और देश को गुमराह किया था। 
       
उन्होंने  कहा कि हम आपसे पूछना चाहते हैं कि अगर 32 रुपये प्रतिदिन आमदनी वाले को गरीब मानना मजाक था, तो दस रुपये अस्सी पैसे की रेखा कौन सा मखौल है। उन्होंने कहा कि भाजपा के नेता भी तरह तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि खाद्य सुरक्षा विधेयक पारित होने के बाद अब गरीबी रेखा के नीचे के वर्ग (बीपीएल) का कोई अर्थ नहीं रह गया है और हर राज्य को यह हक दिया गया है कि वे लाभार्थी चुनने के लिए अपने स्तर तय कर सकते हैं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गरीबों का मजाक उड़ाने पर माफी मांगें मोदी: अजय माकन