DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भदोही से चुनाव लड़ सकते हैं सखाराम यादव

इलाहाबाद वरिष्ठ संवाददाता। लोकसभा चुनाव से पहले हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज सखाराम यादव के भाजपा में शामिल होने के साथ ही कयासबाजी का दौर शुरू हो गया है। चर्चा है कि श्री यादव भदोही लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी हो सकते हैं। साफ-सुथरी छवि के सखाराम यादव का जन्म 25 जुलाई 1940 को हंडिया के जगदीशपुर गांव में हुआ था। शुरुआती पढ़ाई गांव से करने के बाद सीएवी इंटर कॉलेज से 12वीं तक की पढ़ाई की।

उसके बाद इलाहाबाद विश्वविद्यालय से बीएससी और एलएलबी किया। पढ़ाई पूरी करने के बाद अपने पिता रूप नाथ सिंह यादव के जूनियर के रूप में हाईकोर्ट में प्रैक्टिस शुरू की। 24 जनवरी 1991 को हाईकोर्ट के जज बने और जुलाई 2002 में रिटायर हुए। हाईकोर्ट के जज रहते हुए श्री यादव ने समाज के कमजोर वर्ग के विकास से जुड़े मुद्दों पर अहम फैसले दिए। हाईकोर्ट से रिटायर होने के बाद वे सेंट्रल एड़ािनिस्टट्रवि ट्रबि्यूनल (कैट) इलाहाबाद और बंगलुरु में भी काम किया।

2006 में सुप्रीम कोर्ट के सीनियर एडवोकेट के रूप में प्रैक्टिस कर रहे हैं। उनके पिता रूपनाथ सिंह यादव हंडिया से दो बार विधायक रहे और 1977 में जनता दल के टिकट पर प्रतापगढ़ से लोकसभा के लिए चुने गए। रूप नाथ सिंह यादव ने 1985 में तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी की उपस्थिति में कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली थी। सखाराम के बेटे अजय सिंह यादव हाईकोर्ट में प्रैक्टिस करते हैं और उत्तर प्रदेश बार काउंसिल के अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भदोही से चुनाव लड़ सकते हैं सखाराम यादव