DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साढ़े चार सौ सीटों पर लड़ेगी भाजपा

साढ़े चार सौ सीटों पर लड़ेगी भाजपा

लोकसभा चुनावों में भाजपा 450 से ज्यादा सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी। बाकी सीटें एनडीए के मौजूदा उसके सहयोगी दलों और भावी रणनीतिक सहयोगियों के लिए छोड़ा जाएगा। उम्मीदवारों तय करने का काम अंदरूनी तौर पर शुरू हो गया है। मौजूदा सांसदों में से लगभग एक दर्जन के टिकट कटने की संभावना है। पार्टी के अधिकांश बड़े नेता अपना मौजूदा सीटों से ही चुनाव लड़ेंगे, रणनीतिक दृष्टि से ही कुछ नेताओं की सीट बदली जा सकती है।

पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व अगले सप्ताह से उम्मीदवारों को लेकर राज्यों के साथ और अपने स्तर पर विचार-विमर्श की प्रक्रिया शुरू कर देगा। पांच फरवरी से शुरू हो रहे संसद सत्र के दौरान पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह मौजूदा सांसदों के चर्चा कर उनसे सीधा संवाद करेंगे।

फरवरी के आखिरी सप्ताह में लोकसभा चुनावों की तारीखों की घोषणा होने की संभावना है। तब तक पार्टी लगभग 200 उम्मीदवारों के नाम तय कर लेगी। हालांकि इनकी घोषणा का समय चुनावी रणनीति के मुताबिक तय किया जाएगा। इस माह में पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की दो बैठकें हो सकती हैं।

1996 के बाद होगी सबसे बड़ी संख्या: भाजपा ने पहली बार केंद्र में सत्ता 1996 में हासिल की थी, तब उसने 471 उम्मीदवार उतारे थे। इसके बाद गठबंधन बढ़ता गया और उसके अपने उम्मीदवारों की संख्या घटती गई। इस बार उसका गठबंधन कमजोर है। इसी वजह से वह इतनी ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ने का मन बना रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साढ़े चार सौ सीटों पर लड़ेगी भाजपा