DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जब ठान लें तो पूरी मेहनत से जुट जाएं

जीवन में मेरे कुछ फैसले गलत साबित हुए हैं, जिसका नतीजा है कि अब मेरा खुद से विश्वास कम हो गया है। यहां तक कि अपने छोटे-छोटे निर्णयों में भी मैं संशयों से घिर जाता हूं। इन दिनों मैं बैंक परीक्षा की तैयारी कर रहा हूं। पर अपने इस फैसले को लेकर भी निश्‍चित नहीं हूं। सोचता हूं कि क्या बैंकिंग का क्षेत्र मेरे लिए ठीक है? इस कारण से मैं ढंग से पढ़ाई नहीं कर पाता। मुझे कोई राह दिखाएं?
निखिल कुमार, बिहार

उत्तर: सिर्फ आप ही नहीं, दुनिया के लगभग 45% लोग अपने निर्णयों से पूरी तरह संतुष्ट नहीं होते। आपको अगर यह लगता है कि आपने पहले कभी जो निर्णय लिए, उनमें सफलता नहीं मिली, तो इससे व्यथित न हों। अपने किसी भी निर्णय या उद्देश्य को पूरा करने के लिए आपको सिलसिलेवार सोचना और काम करना होगा। सबसे पहले तो यह देखें कि आप क्या वाकई यह करना चाहते हैं? और अगर हां, तो इसकी सफलता के लिए आपने क्या योजना बनाई है। इस समय आप बैंक की परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं। सबसे पहले तो देख लें कि आपकी योग्यता किस दिशा में है। दूसरों की देखादेखी में निर्णय न लें। और जब ठान लें तो पूरी मेहनत से जुट जाएं। आधे मन से किए गए काम में सफलता नहीं मिलती। अपना रवैया पॉजिटिव रखें, इससे आपकी अन्य कई दिक्कतें भी दूर हो जाएंगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जब ठान लें तो पूरी मेहनत से जुट जाएं