DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जनसंपर्क विभाग कर रहा कार्यक्षेत्र का विस्तार : निदेशक

जमशेदपुर’ वरीय संवाददाता। राज्य के सूचना एवं जनसंपर्क निदेशक अवधेश कुमार पांडेय ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2014-15 में विभाग अपने कार्यक्षेत्र का विस्तार करेगा। इस दौरान सूचना एवं जनसंपर्क, यूनिसेफ के साथ मिलकर राज्य के महत्वपूर्ण शहरों में कार्यशाला का आयोजन करेगा।

आयोजन में स्थानीय संवाददाताओं, सोशल मीडिया और विभिन्न क्षेत्र के विशेषज्ञों को भी सहभागी बनाया जाएगा। वे जिला सूचना एवं जनसंपर्क कार्यालय में शनिवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। जिले में 18 पद खालीनिदेशक ने बताया कि पूर्वी सिंहभूम जिला जनसंपर्क कार्यालय में कर्मचारियों के 18 पद खाली हैं।

जिसमें 12 पद अनुबंधकर्मी का है। इन पदों पर नियुक्ति के संबंध में सरकार को नीतिगत निर्णय लेना है। इसकी फाइल बढ़ी हुई है। उम्मीद है कि एक या दो महीने में इस पर निर्णय ले लिया जाएगा। उन्होंने स्वीकार किया कि पूर्व में अधिकारियों व कर्मचारियों की कमी के कारण आम लोगों की हित वाली सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार का काम पीआरडी नहीं कर पा रहा था। हालांकि अब जनसंपर्क विभाग इस काम को फिर से शुरू कर रहा है।

परंतु विभाग को पूरी तरह व्यवस्थित होने में कम से कम 2 साल का समय लगेगा। खर्च नहीं हो सकी योजना मद की राशिपांडेय ने बताया कि पूर्वी सिंहभूम सहित राज्य के आधे से अधिक जिलों में विभाग योजना मद की राशि खर्च करने में विफल रहा। पूर्वी सिंहभूम जिले को होर्डिग और गीत नाटक मद में पांच-पांच जबकि मेला व प्रदर्शनी मद में दो लाख रुपये खर्च करने को मिला था। परंतु सिर्फ होर्डिग मद में 61 हजार रुपए ही खर्च हो सके।

अब पूरी राशि वापस लौटानी होगी। उन्होंने बताया कि योजना मद की राशि खर्च नहीं करने के कारण मुख्य सचवि ने सभी उपायुक्तों को पत्र लिखा है। उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले वित्तीय वर्ष से खर्च करने के अधिकार में बदलाव हो सकता है। अभी उपायुक्त द्वारा खर्च की स्वीकृति दी जाती है। परंतु नए नियम के बाद जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी को ही यह अधिकार होगा। उन्होंने बताया कि करीब 10 जिलों में इस मद की राशि खर्च हुई है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:जनसंपर्क विभाग कर रहा कार्यक्षेत्र का विस्तार : निदेशक