DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुप्रीम कोर्ट की शरण में जाएंगे रिटायर कोयलाकर्मी

धनबाद/विशेष संवाददाता। कोल पेंशनर्स एसोसिएशन की शनिवार को हुई बैठक में पेंशनवृद्धि सहित अन्य महत्वपूर्ण मांगों के लिए सुप्रीम कोर्ट की शरण में जाने का निर्णय लिया गया। एक सप्ताह तक धरना एवं आंदोलनात्मक कार्यक्रम चलाने पर भी सहमति बनी। सीएमपीएफ मुख्यालय के समक्ष 24 से 28 मार्च तक जत्थेदार धरना एवं 28 को प्रदर्शन किया जाएगा।

कोल पेंशनर्स एसोसिएशन की ओर से बताया गया कि कोयलाखान भविष्य निधि संस्थान, भारत सरकार तथा कोल इंडिया प्रबंधन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की जाएगी। रिटायर कर्मियों की मांगों की अनदेखी के लिए पेंशनर्स एसोसिएशन का प्रतिनिधिमंडल तीन फरवरी को माकपा नेता वृंदा करात से धनबाद में भेंट कर आंदोलन में सहयोग पर बात करेगा।

वृंदा करात तीन को धनबाद आ रही हैं। प्रमुख मांगों में न्यूनतम पेंशन दस हजार करने, चिकित्सा सुविधा कार्यरत कर्मियों के समान देने की मांग आदि है। बैठक में एसएन सिंह, दयाशंकर शुक्ल, राजेंद्र सिंह, बीएन सिंह, गणेश सिंह, प्रभुनाथ सिंह, जनकदेव पांडेय, दिनेश्वर सिंह आदि मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सुप्रीम कोर्ट की शरण में जाएंगे रिटायर कोयलाकर्मी