DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कुदरा में फोरलेन सड़क में पड़ी दरार

ैमूर के कुदरा में प्रधानमंत्री चतुभरुज योजना के तहत बनी फोरलेन सड़क में कई जगहों पर दरारं पड़ गई हैं,ािससे लोगों द्वारा इसकी गुणवत्ता पर सवाल उठाए जाने लगा है। हालांकि सड़क निर्माण कंपनी पूंजलैंड मरम्मत का कार्य करा रही है। बताया गया है कि सड़क निर्माण में सरकार करोड़ों रूपए खर्च की है। फिर भी सड़क में दरार पड़ जाना अपने आप में एक सवाल है। मालूम हो कि प्रखंड के पछाहगंज, कुदरा पेट्रोल टंकी, व्यापार मंडल कार्यालय एवं चिलबिली गांव के पास सड़क में लंबी-लंबी दरारें दिखाई पड़ रही है। इस संबंध में कंपनी के अधिकारियों से उनका पक्ष जानने का प्रयास किया गया, किन्तु नेटवर्क फेल होने और पछाहगंज से वेसकैंप को हटा लिए जाने से बात नहीं हो सकी। इस संबंध में सड़क की रिपेयरिंग करा रहे ठेकेदार पवन कुमार सिंह पूछने पर बताया कि बरसात में दरारों के भरने का काम नहीं हो पाएगा। इसके लिए केमिकल मंगवाया गया है। वर्षा समाप्त होते ही इसकी मरम्मत करा दी जाएगी। ड्ढr कुख्यात ओपी यादव घायल, एक फरारड्ढr भागलपुर (का.सं.)। बरारी थाना क्षेत्र के पश्चिम टोला स्थित गंगा किनार पिपली धाम के पास रविवार को मोस्टवांटेड सत्तन यादव गिरोह के अपराधी रुपए बंटवारे के लिए आपस में भीड़ गए। गोलीबारी में कुख्यात ओपी यादव और अभय यादव घायल हो गए। सूचना मिलने पर ट्रेनी एसपी सुजीत कुमार के नेतृत्व में पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची और घायल ओपी यादव को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। घायल अभय यादव फरार हो गया। अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम खोजी कुत्ते के सहार छापेमारी कर रही है। सूत्रों के मुताबिक शानिवार को सत्तन यादव के नाम पर गिरोह को रंगदारी के रुपए मिले थे।ड्ढr ड्ढr रविवार की सुबह करीब दस बजे गिरोह के आधा दर्जन अपराधी पिपली धाम शिव मंदिर के पास बैठ कर बीयर पी रहे थे और रुपए के बंटवारे पर बात कर रहे थे। इसबीच पश्चिम टोला के अभय यादव और नाथनगर करैला गांव के ओपी यादव के बीच विवाद हो गया। इसके बाद आपस में बम विस्फोट हुए और गोलियां बरसने लगीं। ओपी यादव को पेट में और अभय यादव को पैर में गोली लगी। वारदात के बाद इलाके के लोग डर गए। ओपी यादव पिछले एक दशक से फरार था। पुलिस ने वादात के स्थान से बीयर की पांच बोतलें और अपराधियों के कुछ सामान बरामद किए हैं। फरार अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए स्वान दस्ते की दो अलग-अलग टीमों को लगाया गया है। देर शाम तक फरार अभय यादव का कुछ पता नहीं चल सका है। पुलिस ने इलाके के दर्जनों घरों में छापेमारी की। ओपी यादव को पुलिस राजद जिलाध्यक्ष लक्ष्मीकांत यादव और कालो देवी हत्याकांड सहित दर्जनों मामलों में तलाश कर रही थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कुदरा में फोरलेन सड़क में पड़ी दरार