DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैनपुरी में मुलायम के खिलाफ कांग्रेस उतारेगी उम्मीदवार

 मैनपुरी। हिन्दुस्तान संवाद। लोकसभा चुनाव में सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के खिलाफ कांग्रेस इस बार अपना उम्मीदवार उतारेगी। इस आशय का फैसला होने के बाद राष्ट्रीय नेतृत्व ने तैयारी शुरू कर दी है। ठेठ कांग्रेसी को ही मैनपुरी में उम्मीदवार बनाने का फैसला हुआ है। अब सवाल प्रत्याशी के चयन का है। प्रत्याशी जिले से घोषित हो या फिर बाहर से भेजा जाए फिलहाल ये रस्साकसी चल रही है, लेकिन जनपद कांग्रेस से दर्जनभर नाम प्रत्याशी बनने के लिए दिल्ली भेजे गए हैं।

वर्ष 2009 के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस ने मैनपुरी में सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव के सामने उम्मीदवार न उतारने का फैसला किया था। लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। राहुल गांधी की नई रणनीति के तहत मैनपुरी में भी कांग्रेस अपना उम्मीदवार उतारेगी। राहुल के निर्देश पर प्रदेश कमेटी ने प्रत्याशी चयन के लिए पर्यवेक्षकों की टीम मैनपुरी भेजी। टीम ने प्रत्याशियों के आवेदन लिए लेकिन कोई भी ऐसा नाम अब तक सामने नहीं आया है जो मुलायम सिंह से मुकाबला ठीक से कर सके।

यूं तो दर्जन भर से अधिक कांग्रेसियों ने अपने आवेदन दिए हैं, लेकिन इनमें से कोई भी प्रत्याशी जीतने की स्थिति में नहीं है। इसलिए पार्टी का शीर्ष नेतृत्व बाहरी उम्मीदवार को मैनपुरी भेजने की रणनीति पर भी विचार कर रहा है। पार्टी यहां ग्लैमरस चेहरे पर भी दांव खेल सकती है। जिलाध्यक्ष गोपाल कुलश्रेष्ठ का कहना है कि मैनपुरी में कांग्रेस का मजबूत उम्मीदवार चुनाव लड़ेगा। बहुत जल्द प्रत्याशी के नाम की घोषणा हो जाएगी। इनसेटप्रकाश, रश्मि, रामशंकर का मजबूत दावामैनपुरी।

लोकसभा उम्मीदवार बनने के लिए पूर्व जिला प्रकाश प्रधान के अलावा भोगांव से विधानसभा चुनाव लड़ चुकी रश्मि राजपूत, जिलाध्यक्ष गोपाल कुलश्रेष्ठ, सतीश यादव, रामशंकर तिवारी, केसी यादव जैसे नामों की चर्चा है। लेकिन रश्मि राजपूत, सतीश यादव और रामशंकर तिवारी के अलावा प्रकाश प्रधान की दावेदारी मजबूत बनी हुयी है। हाल ही में पार्टी की प्रदेश सचवि बनाई गयी आराधना गुप्ता ने भी प्रत्याशी बनने के लिए अपना दावा कर रखा है। पदाधिकारियों के पास आने लगे दिल्ली से फोनमैनपुरी।

प्रत्याशी चयन में कांग्रेस भी अन्य दलों की तरह फूंक-फूंककर कदम रख रही है। शीर्ष नेतृत्व ने साफ किया है कि जिला कमेटी से पूछे बिना प्रत्याशी का नाम फाइनल नहीं होगा और जो भी प्रत्याशी बनेगा वह पूरी तरह कांग्रेसी ही होगा। इसके लिए जिला नगर और ब्लाक कमेटियों के पदाधिकारियों की सूची और उनके मोबाइल नम्बर शीर्ष नेतृत्व के पास पहले ही भेज दिए गए थे, अब इन नम्बरों पर पार्टी नेताओं के फोन आने लगे हैं। दिल्ली से आने वाले फोन कॉल्स में उम्मीदवार के सम्बन्ध में पदाधिकारियों से राय मशविरा किया जा रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मैनपुरी में मुलायम के खिलाफ कांग्रेस उतारेगी उम्मीदवार