DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फर्जी महिला को मालिक बताकर कर दी प्लाट की रजिस्ट्री

 रामपुर। निज संवाददाता। फर्जी महिला को मालिक बताकर प्लाट की रजिस्ट्री करा दी। बाद में दूसरी महिला ने रजिस्ट्री फर्जी बताते हुए खरीदने वाले पर कार्रवाई के लिए पुलिस का सहारा लिया। प्लाट खरीदने वाले को जब इसकी जानकारी हुई तो होश उड़ गए। उसने रजिस्ट्री करने वालों से जब अपनी रकम मांगी तो उन्होंने इंकार कर दिया। पीड़ित ने रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कोर्ट की शरण ली है।

मिलक कोतवाली क्षेत्र के ग्राम रौरा खुद निवासी हरीश कुमार की मिलक निवासी जमील अहमद कादरी से दोस्ती थी। हरीश के अनुसार जमील ने मुगलसरांय बनारस निवासी राजू पांडेय से उसकी मुलाकात कराई। साथ ही बताया कि राजू और उसकी दामिनी पांडेय के मिलक तहसील में प्लाट हैं जो वह बेंच रहे हैं। बताते हैं कि जिस पर चार प्लाटों का सौदा तय हो गया। हरीश के अनुसार उसने करीब सैंतालिस लाख रुपए दोनों को दे दिए। बाद में चार प्लाटों की रजिस्ट्री भी करा ली।

आरोप है कि कुछ समय बाद एक अन्य महिला ने प्लाट पर अपना दावा ठोंकते हुए रजिस्ट्री को फर्जी करार दिया। फर्जीवाड़ा की जानकारी होने पर हरीश ने जब तीनों से सैंतालिस लाख रुपए मांगे तो उन्होंने देने से इंकार कर दिया। धोखाधड़ी से रकम हड़पने की जानकारी मिलने पर वह रिपोर्ट दर्ज कराने थाने पहुंचा तो पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की। सुनवाई न होने पर अब हरीश ने अपने अधविक्ता नजर अब्बास के माध्यम से जमील अहमद, राजू और दामित्री पांडेय के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:फर्जी महिला को मालिक बताकर कर दी प्लाट की रजिस्ट्री