DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोहरे ने थामे ट्रेनों के पहिए

अलीगढ़। शहर में भले ही कोहरा नहीं था, लेकिन आसपास के क्षेत्रों में कोहरा होने के कारण दर्जनों ट्रेनें निर्धारित समय से घंटों की देरी से चलीं। ट्रेनों के लेट होने के कारण यात्रियों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा। ठंड ने यात्रियों की मुसीबतें और बढ़ा दीं। दोपहर बाद निकली धूप ने यात्रियों को थोड़ी राहत दी। पूछताछ केन्द्र से मिली जानकारी के अनुसार दिल्ली की ओर जाने वाली महानंदा 33 घंटे बाद अलीगढ़ जंक्शन पहुंची।

वहीं महानंदा 29 घंटे, वैशाली साढ़े आठ घंटे, रीवा एक्सप्रेस व नॉर्थईस्ट एक्सप्रेस दस घंटे, कैफियत साढ़े सात घंटे, स्वतंत्रता सेनानी एक्सप्रेस नौ घंटे, गोमती एक्सप्रेस ढाई घंटे, मगध एक्सप्रेस साढ़े नौ घंटे लेट थीं। दिल्ली की ओर से आने वाली गरीब रथ एक्सप्रेस 33 घंटे, महानंदा एक्सप्रेस 23 घंटे, व ब्रह्मपुत्र एक्सप्रेस 16 घंटे की देरी से अलीगढ़ जंक्शन पर पहुंची। यात्रियों की संख्या अधिक होने के कारण प्लेटफार्म की व्यवस्थाएं चरमरा गईं। जीआरपी और आरपीएफ के जवान स्टेशन की व्यवस्थाएं संभालने के लिए दौड़ लगाते रहे।

वहीं पूछताछ केन्द्र पर ट्रेनों की जानकारी लेने के लिए यात्रियों की भीड़ लगी। यात्री कोहरे और ठंड में ठिठुरते रहे। दोपहर बाद जब भगवान भास्कर ने दर्शन दिए तो यात्रियों ने राहत की सांस ली।

रेलवे ने पुराना फुटओवर ब्रिज हटवाया

शनिवार को रेलवे अधिकारियों ने अलीगढ़ जंक्शन पर बने पुराने फुटओवर बिज्र को हटवाया। इस दौरान एक घंटे तक ओएचई बंद रही। इस कारण काफी देर तक पैंसेजर ट्रेनें प्लेटफार्म पर खड़ी रहीं। पुल को हटाने के लिए तीन सौ टन की दो क्रेनें रेलवे के अधिकारियों से बाहर से मंगवाई।

स्टेशन अधीक्षक जीडी सिंह ने बताया कि पुल काफी जर्जर होने के कारण कभी भी कोई हादसा हो सकता था। रेलवे जीएम के आदेश पर पुराने फुटओवर ब्रिज को हटवाया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कोहरे ने थामे ट्रेनों के पहिए