DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

साइकिल पर चढ़ने से कतराते दिखे सपाई

हाथरस। सीएम भले ही साइकिल चलाने में कोई गुरेज न हो,लेकिन उनके सिपाही जरुर साइकिल चलाने से घबराते है। शायद यहीं कारण रहा कि शनिवार को साइकिल रैली में भी तमाम सपाई पैदल घूमते हुए नजर आए। चंद सपाई ऐसे थे, जिनके पास सिर्फ साइकिल थी। इसलिए सपाईयों का बाजारों में पैदल घूमना लोगों के बीच चर्चा का विषय बना रहा।

पार्टी के कई धुंरधर तो शहर की रैली में दिखाई ही नहीं दिए। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के आह्वान पर प्रदेश भर में एक से सात फरवरी तक साइकिल यात्रा निकाली जा रही है। इसलिए शनिवार को शहर में भी रैली साइकिल यात्रा निकाली गई,लेकिन यहां साइकिल यात्रा का स्वरुप कुछ अलग ही था। यहां सिर्फ नाम के लिए रैली में चंद साइकिल शामिल कर ली गई। अन्यथा अधिकांश कार्यकर्ता पैदल ही मार्च कर रहे थे। साफ जाहिर होता है कि वह सीएम के आदेशों को कितना तबज्जो दे रहे है।

लिहाजा सुबह पुरानी कलक्ट्रेट से रैली शुरु हुई। इसमें सपाई सिर में लाल टोपी और हाथों में झंडे लेकर अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादवजिंदाबाद के नारे लगा रहे थे। साइकिल यात्रा शहर के आंनद टॉकीज, हनुमान चौकी, खातीखाना, भूरापीर चौराहा, चक्की बाजार, चामड़ गेट, चूनावाला डंडा, बुर्जवाला कुंआ, घंटाघर, बैनीगंज, रामलीला मैदान, पंजाबी मार्केट होती हुई पुरानी कलक्ट्रेट पर आकर खत्म हो गई। जगह-जगह पार्टी के पदाधिकारियों ने सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं के बारे में बताया।

रविवार को फिर सुबह दस बजे से साइकिल रैली निकलेगी। इसका उद्घाटन सपा के राष्ट्रीय महासचवि रामजी लाल सुमन और जिलाध्यक्ष करेंगे। यात्रा के दौरान पूर्व विधायक यशपाल सिंह चौहान, तेजवीर सिंह सिसोदिया, रमनमूर्ति शर्मा, कृष्ण बिहारी शर्मा, अजय शर्मा, प्रंशात शर्मा, संजीव शर्मा, अशोक बागला, पंकज यादव, पवन तिवारी, अरुण माहेश्वरी, कैलाश बिहारी गौड़, शविकुमार वाष्र्णेय, बॉबी यादव, जितेन्द्र वाष्र्णेय, असलम बेग, आकाश बग्गा, ठाकुरदास, चन्द्रकान्त कौशिक, रामकुमार मिश्रा, प्रंशात मिश्र, संतोष ओझा, सतीश यादव, नदीम, यूसूफ मिस्त्री, अजरुद्दीन, ओपी राठौर, बलवीर वर्मा, बलराम यादव, योगेन्द्र वर्मा, दीपक कौशिक, हाजी फजलुर्रहमान आदि मौजूद थे।

 

बाहर होगे साइकिल यात्रा में न आने वालेसपा जिलाध्यक्ष ने कहा है कि पार्टी के जो पदाधिकारी रैली में शामिल नहीं होंगे। उनकी सूची प्रदेश कार्यालय को भेज दी जाएगी। उन्हें तुरन्त पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाया जाएगा। साइकिल यात्रा सुबह से लेकर शाम तक क्षेत्र में भ्रमण करेगी और कल्याणकारी योजनाओं के बारे बताएगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:साइकिल पर चढ़ने से कतराते दिखे सपाई