DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मेरी जीत का श्रेय पूरी टीम को जाता है: सोमदेव

मेरी जीत का श्रेय पूरी टीम को जाता है: सोमदेव

भारत के स्टार टेनिस खिलाड़ी सोमदेव देववर्मन ने टि चेन के खिलाफ दूसरा एकल मैच जीतने के बाद आज कहा कि एक खिलाड़ी अकेले दम पर पांच सेट का मैराथन मुकाबला नहीं जीत सकता और ऐसी जीत में पूरी टीम के योगदान की जरूरत पड़ती है।

सोमदेव को डेविस कप एशिया़-ओसियाना ग्रुप एक के एकल मुकाबले में चेन को हराने के लिए चार घंटे और 40 मिनट तक जूझना पड़ा। सोमदेव ने कहा कि युकी ने आज सुबह संदेश भेजा कि धैर्य बनाए रखो। उन्होंने मेरा धैर्य बनाए रखने में काफी मदद की। मुझे पता था कि मुझे कोर्ट पर उतरकर शुरुआती गेमों में ही शानदार प्रदर्शन करना होगा। उनके जैसे व्यक्ति (गैर-खिलाड़ी कप्तान आनंद अमृतराज) की मौजूदगी से काफी फायदा होता है क्योंकि वे काफी अनुभवी हैं। उन्होंने मुझे लगातार प्रेरित किया और आज सुबह शानदार स्पीच दी जिससे मेरा मनोबल बढ़ा।

उन्होंने कहा कि मैं राहत महूसस कर रहा हूं कि मैं जीत दर्ज करने में सफल रहा। यह कड़ा मैच था। मुझे लगता कि शुरुआत में मैं अच्छा खेल रहा था। मैं एक ब्रेक से आगे चल रहा था। मैं लापरवाही के साथ सर्विस गंवा दी और प्रतिद्वंद्वी ने मेरी गलती का पूरा फायदा उठाया। जब भी आप पांच सेट का कड़ा मुकाबला जीतते हो तो यह आप अकेले नहीं करते, आपको पूरी टीम को श्रेय देना पड़ता है। मुझे सिर्फ अपने साथियों को देखना था और वे सब मेरा हौसला बढ़ा रहे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मेरी जीत का श्रेय पूरी टीम को जाता है: सोमदेव