DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इटली ने नौसैनिकों के मामले पर जाहिर की नाराजगी

इटली ने नौसैनिकों के मामले पर जाहिर की नाराजगी

भारतीय सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई से पहले इटली ने भारत में उसके दो नौसैनिकों के खिलाफ चल रहे मामले को परेशान कर देने वाला करार दिया है।

इटली ने यह भी कहा कि यह नौसैनिकों के मसले पर जागरुकता पैदा करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय साझेदारों से बात करेगा, जो भारत में मुकदमे का सामना कर रहे हैं। इन नौसैनिकों पर दो भारतीय मछुआरों की हत्या का आरोप है।

इटली के प्रधानमंत्री एनरिको लेट्टा ने रोम में कहा कि हम एक मसले पर जागरुकता पैदा करने के लिए इटली के मुख्य यूरोपीय और अंतर्राष्ट्रीय साझीदारों के संपर्क में रहेंगे, जिसमें हमारे दो नौसैनिकों और उनके परिवारों को अंतर्राष्ट्रीय समर्थन की मांग की जा रही है।

इधर, राष्ट्रपति जॉर्जियो नेपोलितानो ने भारत द्वारा मामले पर की गई कार्रवाई को विरोधाभाषी और परेशान करने वाला करार दिया है। दिल्ली में गुरुवार को एक विशेष न्यायालय ने मामले की सुनवाई 25 फरवरी तक करने का फैसला किया था, जिससे तनाव बढ़ गया है।

विशेष न्यायालय ने कहा कि यह सुप्रीम कोर्ट में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के उस याचिका पर तीन फरवरी को होने वाली सुनवाई का इंतजार कर रहा है, जिसमें नौसैनिकों के लिए आतंकवाद विरोधी कानून के अंतर्गत मृत्युदंड की मांग की गई है। हालांकि, भारतीय विदेश मंत्रालय ने कई बार उन्हें मृत्युदंड न दिए जाने का आश्वासन दिया था।

इटली के रक्षा मंत्री मारियो मॉरो ने शुक्रवार को कहा कि भारत उन्हें लंबे समय तक हिरासत में रख कर नौसैनिकों के मानवाधिकार का हनन कर रहा है। इधर, यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष जोस मैन्युअल बरोसो ने आगाह करते हुए कहा कि इटली के दो नौसैनिकों पर फैसला पूरे यूरोपीय संघ पर प्रभाव डालेगा। इसके अलावा यूरोपीय संघ ने उन्हें मृत्युदंड दिए जाने पर भारत को आर्थिक प्रतिबंधों का सामना करने की धमकी दी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:इटली ने नौसैनिकों के मामले पर जाहिर की नाराजगी