DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सोमदेव, बोपन्ना-मायनेनी ने भारत को विजयी बढ़त दिलाई

सोमदेव, बोपन्ना-मायनेनी ने भारत को विजयी बढ़त दिलाई

सोमदेव देववर्मन की एकल जीत के बाद रोहन बोपन्ना और साकेत मायनेनी ने युगल मुकाबला अपनी झोली में डालर चीनी ताइपै के खिलाफ डेविस कप एशिया ओशियाना ग्रुप एक के मुकाबले में भारत को 3-0 की विजयी बढ़त दिला दी।

कल खराब रोशनी के कारण मैच रोके जाने के बाद सोमदेव ने आठ मिनट के भीतर जीत की औपचारिकता पूरी करते हुए चीनी ताइपै के टि चेन को 6-7, 7-6, 1-6, 6-2, 9-7 से हराकर भारत को 2-0 की बढ़त दिलाई। कल पांचवें सेट में मुकाबला 7-7 से बराबर था। सोमदेव ने आज आक्रामक खेल दिखाते हुए चेन पर दबाव बनाया और उसे बेसलाइन पर खेलने को मजबूर कर दिया। उसे इसका फायदा मिला और 16वें गेम में उसने चेन की सर्विस तोड़कर दो मैच प्वाइंट गंवाने पर उसे मजबूर किया।

सातवें मैच प्वाइंट पर उसने मुकाबला अपने नाम कर लिया। यह मैच दो दिन में चार घंटे और 40 मिनट तक चला। इससे पहले कल युकी भांबरी ने चोट के बावजूद सुंग हुआ यांग को 6-2, 6-4, 6-7, 6-3 से हराकर भारत को 1-0 से बढ़त दिलाई थी। सोमदेव और चेन के बीच यह तीसरा मुकाबला था। सोमदेव ने 2009 में डेविस कप मुकाबले में और फिर अगले साल एशियाई खेल में उसे हराया था। चेन ने हालांकि इस बार बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए मुकाबला बराबरी का कर दिया था।

बाद में बोपन्ना और डेविस कप में पदार्पण करने वाले मायनेनी ने सियेन यिन पेंग और सिंग हुआ यांग को 6-0, 6-7, 6-3, 7-6 से हराकर भारत को 3-0 की विजयी बढ़त दिला दी। अब कल होने वाले उलट एकल मुकाबले बेमानी होंगे।

सिन हान ली को पेंग के साथ खेलना था लेकिन ताइपै ने अपने नंबर एक खिलाड़ी यांग को उतारा ताकि भारतीय जोड़ी को अच्छी चुनौती दी जा सके। भारतीय टीम अब अप्रैल में दूसरे दौर के मुकाबले के लिए कोरिया जाएगी। वहां जीतने पर टीम 16 देशों के विश्व ग्रुप में जगह बनाने के लिए प्लेऑफ खेलेगी। यह संभव है कि कप्तान कल होने वाले दोनों औपचारिक मुकाबलों के लिए खिलाड़ी बदल दे।
 
युगल मुकाबले में पिछले साल विश्व रैंकिंग में तीसरे नंबर तक पहुंचे बोपन्ना ने अपना अनुभव इस्तेमाल करते हुए बेहतरीन प्रदर्शन किया। उसने 18 ऐस लगाए और जबर्दस्त रफ्तार के साथ खेला।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:सोमदेव, बोपन्ना-मायनेनी ने भारत को विजयी बढ़त दिलाई