DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मोदी की रैली को लेकर प्रशासन मुस्तैद

मोदी की रैली को लेकर प्रशासन मुस्तैद

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में 2 फरवरी को होने वाली नरेंद्र मोदी की रैली को लेकर इस बार शासन-प्रशासन के पसीने छूट रहे हैं। खुफिया एजेंसियों द्वारा रैली में हमले की आशंका जताए जाने के बाद से ही प्रशासनिक अधिकारी पूरी तरह सतर्क हैं। दो कमांडो टीम सहित सादे कपड़ों में खुफिया विभाग के लोग भी रैली स्थल पर नजर रखे हुए हैं।

मुजफ्फरनगर में हाल में हुई हिंसा के बाद मोदी की यह रैली काफी संवेदनशील मानी जा रही है। आला अधिकारी भी इसे जानते हैं। वे चाहते हैं कि यह किसी तरह शांतिपूर्वक निबट जाए। शासन से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि आईबी के अलर्ट के बाद मोदी की मेरठ रैली को लेकर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। रैली की सुरक्षा को लेकर जिला प्रशासन कई दौर की बैठकें कर चुका है।

रैली की सुरक्षा के लिए मेरठ जोन की फोर्स के साथ ही पुलिस मुख्यालय से भी अतिरिक्त पुलिस अधिकारियों की तैनाती की गई है। रैली के लिए मुख्यालय की तरफ से दो पुलिस अधीक्षक, 10 अपर पुलिस अधीक्षक, 20 पुलिस उपाधीक्षक और 12 इंस्पेक्टर तथा 150 सब इंस्पेक्टरों की तैनाती की गई है। इसके अलावा दो बम निरोधक दस्ता और एटीएस की दो कमांडो टीमें तैनात की गई हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मोदी की रैली को लेकर प्रशासन मुस्तैद