DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसान अदालत में बीओआई टोटो की जांच रिपोर्ट

गुमला संवाददाता। भारतीय किसान महासभा के गुमला जिला इकाई माले के संयुक्त तत्वावधान में शुक्रवार को बैंको में किसान क्रेडिट कार्ड में अनियमितता बरते जाने और सिचाई योजनाओं में मची लूट के खिलाफ स्थानीय कचहरी परिसर में किसान अदालत कार्यक्रम का आयोजन किया।

मौके पर किसान महासभा के प्रदेश अध्यक्ष पूरन महतो ने कहा कि कृ षि प्रधान देश में किसानों का आत्महत्या शर्मनाक है। केंद्र और राज्य सरकार सिर्फ किसानो को छलने में लगी है। श्री महतो ने यह भी कहा कि कारपोरेट घराने को सरकार 342 करोड़ रूपये प्रतिदिन टैक्स में रियायत दे रही है। और किसानों के 20-25 हजार रूपये माफ करने में सिरदर्द हो रहा है। उन्होने किसानो के जमीन पर कारपोरेट घरानो द्वारा कब्जा जमाने की घटना पर भी नाराजगी जतायी।

मौके पर माले जिला सचवि विजय कुमार सिंह ने कहा कि सीरिज चेकडैम निर्माण में अधिकारियों और ठेकेदारों के लूट कर साधन मात्र है। और बैंकों में किसानों से केसीसी के नाम पर लूट मची है। दोषियों पर कार्रवाई करने के बजाये बैंक केअधिकारी दोषियों को बचाने में लगे हैं।

उधर किसान अदालत मेंबैंक ऑफ इंडिया के टोटो शाखा में चल रही जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक करने, इंडियन ओवरसीज बैंक, पंजाब नेशनल बैंक और यूकों बैंक द्वारा निर्गत केसीसी की जांच किसानों के बीच करने और घोटाले में संलिप्त बैंक अधिकारियों व बिचौलियों पर कार्रवाई करने की मांग की गयी।

और निर्णय लिया गया कि कार्रवाई नही होने पर किसान सभा स्वंय जांच कर अदालत में मुकदमा दायर करेगी। मौके पर लालसाय भगत, आदित्य सिंह, मुस्कीम अंसारी, शिव प्रसाद साहू, महावीर बड़ाईक, राजेश भगत समेत काफी संख्या में किसान और कार्यकर्ता उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किसान अदालत में बीओआई टोटो की जांच रिपोर्ट