DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्या के आरोपित को उम्रकैद

आरा। संवाददाता। ट्रेन में हुई हत्या के मामले में एक को दोषी पाते हुए कोर्ट ने उम्र कैद की सजा सुनायी। कोर्ट द्वारा अभियुक्त के खिलाफ 50 हजार रुपये का आर्थिक दण्ड भी लगाया गया। यह फैसला शुक्रवार को प्रथम तदर्थ न्यायालय के न्यायधीश रामपदारथ द्वारा सुनाया गया। यह घटना 17 अगस्त 2011 को बक्सर स्टेशन पर यार्ड में खड़ी बक्सर-पटना पैसेंजर ट्रेन में हुई थी।

उतर प्रदेश के गाजीपुर के कोड़रा निवासी पंकज गुप्ता व गाजीपुर के मुरकी कला निवासी बब्लू गुप्ता के परिवार के बीच नगालैंड के दीमापुर में व्यवसाय के लिए एक दुकान लेने को लेकर विवाद हुआ था। इस विवाद को लेकर बब्लू गुप्ता अपने साथ पंकज गुप्ता को झांसे में लाकर 17 अगस्त 2011 को बक्सर लाया। रात होने का बहाना बनाते हुए बब्लू ने पंकज से रात में बक्सर स्टेशन पर ही ठहर जाने का आग्रह किया। रात्रि में दोनों यार्ड मे ंखड़ी पैसेंजर ट्रेन में सोने चले गये।

जब पंकज गाढ़ी नींद में सोया था, उसी वक्त बब्लू ने चाकू मारकर उसकी हत्या कर दी। जब ट्रेन 18 अगस्त की सुबह बक्सर से पटना के लिए रवाना हुई तो टुड़ीगंज स्टेशन पर यात्रियों ने ट्रेन की बोगी में लाश देखकर शोर मचाना शुरू कर दिया।

आरपीएफ बक्सर के हेंड कांस्टेबल गोविन्द सिंह के बयान पर इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई। एपीपी अम्बिका सिंह ने बताया कि अभियोजन की ओर से इस मामले में कुल 13 गवाह ट्रायल के दौरान कोर्ट में प्रस्तुत किये गये।

उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर कोर्ट ने बब्लू गुप्ता को पंकज की हत्या का दोषी पाते हुए उसे उम्र कैद की सजा सुनाई। साथ ही कोर्ट ने बब्लू के खिलाफ 50 हजार रुपये का आर्थिक दण्ड भी लगाया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हत्या के आरोपित को उम्रकैद