DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एसपी के खिलाफ ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

आरा। कई पुलिस अधिकारियों पर गोठउला ग्राम कचहरी के सरपंच को झूठे मुकदमे में फंसाने व गिरफ्तार करने में संलिप्त रहने का आरोप लगाते हुए सैकड़ो ग्रामीणों ने एसपी कार्यालय के समक्ष जोरदार प्रदर्शन किया।

ग्रामीणों ने रमना मैदान से कार्यालय के मेन गेट तक जुलूस निकाला, और देर तक पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। ग्रामीण सरपंच की सकुशल रिहाई, मामले की निष्पक्ष जांच व दोषी पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे।

कार्रवाई नहीं होने पर डीएम कार्यालय के सामने पांच फरवरी से अनशन करने का एलान किया। शुक्रवार को गोठउला पंचायत के सभी गांवों से ग्रामीणों का हुजूम वाहनों पर सवार होकर आरा रमना मैदान पहुंचा।

वहां पहुंचने के बाद ग्रामीणों ने एसपी कार्यालय तक जुलूस निकाला व मेन गेट पर प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि एसपी को आठ बार लिखित आवेदन सरपंच अजय कुमार व अन्य ग्रामीणों के द्वारा देने पर भी कोई कार्रवाई हुई। उल्टे झूठी एफआईआर दर्ज करा सरपंच को गिरफ्तार किया गया।

सरपंच के द्वारा पंचायत में होने वाले भ्रष्टाचार को उजागर करने के कारण एफआईआर की साजशि की गयी है। सरपंच को फंसाने के मामले में अनुसूचित जाति/जनजाति थाना के थानाध्यक्ष विरेंद्र कुमार, डीएसपी, गोठउला के मुखिया व अन्य लोगों पर कार्रवाई की जाए।

प्रदर्शनकारियों ने इस संबध में पुलिस अधीक्षक को 130 ग्रामीणों का हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन भी दिया। इधर, पुलिस अधीक्षक सत्यवीर सिंह ने बताया कि कोर्ट के वारंट पर सरपंच को गिरफ्तार किया गया है। मामले का राजनीतिकरण कर लोग नारेबाजी कर रहे हैं।

आरा जेल में आमरण-अनशन पर हैं सरपंचः ग्रामीणों ने बताया कि गोठउला ग्राम कचहरी के सरपंच अजय कुमार अपनी गिरफ्तारी के विरोध में आरा जेल में आमरण-अनशन पर हैं। पुलिस के द्वारा गिरफ्तार करने के वक्त से ही वे अनशन पर हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:एसपी के खिलाफ ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन