DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निचले पायदान पर रहे अभ्यर्थियों की खुलेगी तकदीर!

मुजफ्फरपुर। कार्यालय संवाददाता। शिक्षक बहाली में इस बार मेधा सूची में निचले पायदान पर आने वाले अभ्यिर्थयों की भी तकदीर खुल सकती है। नई प्रक्रिया के तहत होने वाली बहाली के कारण सूची में बाद में आने वाले अभ्यिर्थयों को यह मौका मिल रहा है। शिविर लगाकर होने वाले नियोजन में सरकार ने अभ्यिर्थयों को काउसिंलंग से पहले टीईटी और एसटीईटी का मूल प्रमाणपत्र जमा करने को कहा है।

नई व्यवस्था के बाद एक अभ्यर्थी एक ही जगह से ही दावेदारी कर सकता है। तीन दिन पहले अभ्यिर्थयों को मेधा सूची देखकर अपनी नियोजन इकाई चुनने का मौका मिलेगा। बता दें कि अब तक एक अभ्यर्थी की दर्जनों नियोजन इकाई में पहले नंबर पर दावेदारी होती थी।

लंबी चलने वाली बहाली प्रक्रिया के कारण दर्जनों सीट पर किसी अन्य अभ्यर्थी को मौका ही नहीं मिल रहा था। अब तक अभ्यिर्थयों को मूल प्रमाण पत्र नहीं जमा करना होता था।

तीन दिन पहले सभी नियोजन इकाई को मेधा सूची सार्वजिनक कर देनी है। सूची के आधार पर अभ्यर्थी नियोजन इकाई का चयन कर सकते हैं। एक अभ्यर्थी किसी एक नियोजन इकाई की काउसिंलंग में ही शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में डीपीओ स्थापना अब्दुससलाम अंसारी ने बताया कि हर नियोजन इकाई में कम से कम चार काउंटर लगाने हैं। सभी कैंप में सूचना पट्ट पर सूची रहेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: निचले पायदान पर रहे अभ्यर्थियों की खुलेगी तकदीर!