अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संक्षिप्प्त खबर

ोर्ट में हाजिर हुए भानूड्ढr गढ़वा। प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीपुल्स वार का सदस्य होने के आरोप में दर्ज मामले (ाीआर 5142001) में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री भानू प्रताप शाही सोमवार को अनुमंडल न्यायिक दंडाधिकारी यशवंत कुमार शाही की अदालत में सशरीर उपस्थित हुए।ड्ढr नक्सली गिरफ्तारड्ढr मेदिनीनगर। पलामू पुलिस ने नक्सली भोला सिंह को लेवी के1.60 लाख रुपये के साथ गिरफ्तार किया। वह जोनल कमांडर अजय गंझू का नजदीकी है। गुप्त सूचना पर पुलिस इंस्पेक्टर रामेश्वर प्रसाद, पाटन थाना प्रभारी एनडी राय, मनातू थाना प्रभारी आरपी साहू ने उसे पकड़ा।ड्ढr दुर्घटना में दो साढ़ू मरड्ढr गोला। रामगढ़-बोकारो मार्ग पर बैताली मंडप के पास सोमवार को सड़क दुर्घटना में दो सगे साढ़ू लोगों की मौत हो गयी। दोनों साली की शादी में आये हुए थे। मृतकों में करमा मुंडा रारप्पा प्रोजेक्ट थाना क्षेत्र के तेवरदाग और दशरथ मुंडा अनगड़ा (रांची) क्षेत्र के गेतलसूद गांधी ग्राम के रहनेवाले थे।ड्ढr बहू ने ली ससुर की जानड्ढr जमशेदपुर। टेल्को में बहू ने मूसल से मारकर ससुर की हत्या कर दी। ससुर को मारने के बाद शव को कमर में बंद करने के बाद बहू भागकर ननद के घर चली गयी। वहीं डय़ूटी पर गये पति को बुलाया और पति ने पत्नी को थाना ले जाकर समर्पण करा दिया। पुलिस ने आर ज्योति लक्ष्मी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।ड्ढr ..और उठ बैठी लाशड्ढr जमशेदपुर। दृश्य किसी हॉरर फिल्म की तरह और मामला जसे सन्न करती सनसनी । एक लाश पोस्टमार्टम हाउस लायी गयी। एक दारोगा उसके साथ आये। लाश की लम्बाई- चौड़ाई नापी जा रही थी। जांच की जा रही थी कि उसकी मौत कैसे हुई। कहीं कटे-छंटे का निशान तो नहीं। लेकिन यह क्या, मुर्दा उठ बैठा। उठकर वह अगल- बगल ताकने लगा। बड़े- बड़े आंखों से वह पुलिस को देखने लगा। सब कूदकर दो कदम पीछे। यह सब हुआ जमशेदपुर के एमजीएम अस्पताल में।ड्ढr किशोर ने आत्महत्या कीड्ढr जमशेदपुर। मां की डांट से नाराज 15 वर्षीय मंगला वरदा ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। वह राजनगर के सड॥क चिड़िया ग्राम निवासी रहुत वरदा का पुत्र था। घटना के संबंध में परिानों ने बताया कि शनिवार को किसी बात पर मुन्नी वरदा ने अपने पुत्र मंगला वरदा को डांट दिया, जिसके कारण उसने जहर खा लिया।ड्ढr डॉ पीके सिन्हा के पुत्र की संदेहास्पद मौतड्ढr जमशेदपुर। मानगो सिन्हा नर्सिग होम के संस्थापक और नगर के प्रसिद्ध डाक्टर पीके सिन्हा के एकलौते पुत्र 36 वर्षीय डा. नील सिन्हा की रहस्यमय परिस्थितियों में मौत हो गयी। वे न्यू बाराद्वारी निवासी थे। पुलिस के अनुसार डा. नील सिन्हा को शनिवार की रात मानगो सिन्हा नर्सिग होम से इलाज के लिए टाटा मुख्य अस्पताल लाया गया था। यहां डक्टरों ने उनका परीक्षण कर मृत बताया। चोर के बैग से मिला बच्चाड्ढr संवाददाता गढ़वा सोमवार को दस बजे दिन में गढ़वा रोड रलवे स्टेशन पर बैग में बंद एक दस वर्षीय अज्ञात बालक को बच्चा चोर के हाथ से आजाद कराया गया। स्टेशन पर बीडीएम ट्रेन आने का इंतजार कर रहे यात्रियों ने बीरन्द्र सिंह नामक बच्चा चोर की जमकर धुनाई भी कर दी। जीआरपी पुलिस ने बच्चा एवं बच्चा चोर को अपने कब्जे में कर लिया। दोनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती किया गया है। ड्ढr ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संक्षिप्प्त खबर