अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दो का गला रता, धर्मशाला और स्कूल भवन उड़ाया

माओवादी उग्रवादियों ने 22 जून की रात वशिष्टनगर थाना क्षेत्र के झगरतरी, दंतार, लेढ़ो और जुठा गांव में जमकर उत्पात मचाया। जहां दो लोगो की गला रेतकर हत्या कर दी, वहीं दंतार गांव की जन धर्मशाला और उत्क्रमित उच्च विद्यालय दंतार को डायनामाइट लगाकर उड़ा डाला।ड्ढr झगरतरी गांव निवासी साकेत सिंह के पुत्र पंका कुमार सिंह उर्फ टिंकु सिंह (30) और जुठा गांव निवासी रामधनी गंझू के पुत्र भुवनेश्वर गंझू (35) मार गये लोगों में शामिल हैं। इन पर माओवादियों ने मुखबिरी का आरोप लगाया है। आरोप था कि माओवादी संगठन के मार गये तीन लोगों के बार में पुलिस को सारी सूचना इन लोगों ने ही दी थी। ज्ञात हो कि चार जून को लेढ़ो गांव के पास पुलिस ने भाकपा माओवादी संगठन के गणेशी गंझू, महेंद्र गंझू और सिकंदर यादव को एक मुठभेड़ में मार गिराया था।ड्ढr जानकारी के अनुसार रात के नौ बजे के आसपास 50-60 की संख्या में उग्रवादी आये और पंका सिंह और भुवनेश्वर गंझू को पकड़ कर साथ ले गये। कुछ देर बाद भुवनेश्वर की हत्या दंतार गांव के पास और पंका की हत्या लेढ़ो गांव के पास कर दी। हत्या के बाद उग्रवादियों ने डायनामाइट लगाकर विद्यालय और धर्मशाला को उड़ा दिया। दंतार और उसके आसपास के गांवों में दहशत है।ड्ढr घटना के बाद एसपी अखिलेश कुमार झा सहित अन्य अधिकारियों ने घटनास्थल का जायजा लिया और लाश को उठवाकर उसका पोस्टमार्टम कराया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: दो का गला रता, धर्मशाला और स्कूल भवन उड़ाया