DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरुषि मामला: हाईकोर्ट ने निचली अदालत का रिकॉर्ड मंगवाया

आरुषि मामला: हाईकोर्ट ने निचली अदालत का रिकॉर्ड मंगवाया

इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने निचली अदालत का रिकॉर्ड मंगवाया जिसने डॉक्टर दंपति राजेश और नूपुर तलवार की उनकी बेटी आरुषि एवं नौकर हेमराज की हत्या के मामले में सुनवाई की थी और उन्हें सजा सुनाई थी।

न्यायमूर्ति वीके शुक्ला और न्यायमूर्ति करुणा नंद वाजपेयी की खंडपीठ ने राजेश एवं नूपुर तलवार द्वारा अलग-अलग दायर याचिकाओं को साथ मिलाते हुए यह आदेश पारित किया। डॉक्टर दंपति ने 21 जनवरी को सीबीआई अदालत के फैसले के खिलाफ इलाहाबाद उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। सीबीआई अदालत ने दोहरे हत्याकांड में दोनों को पिछले वर्ष नवम्बर में आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी।

उच्च न्यायालय ने प्रतिवादियों से आपत्ति दर्ज कराने के लिए एक महीने के समय की मंजूरी दी और अपील पर सुनवाई की अगली तारीख 11 मार्च तय की। तलवार दंपति ने याचिका लंबित रहने तक जमानत देने का भी आग्रह किया है।

तलवार दंपति के नोएडा स्थित आवास पर मई 2008 में आरुषि मृत पाई गई थी। हेमराज पहले लापता था और अपराध में उसकी संलिप्तता के संदेह थे लेकिन एक दिन बाद उसका शव घर की छत से बरामद हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:आरुषि मामला: हाईकोर्ट ने निचली अदालत का रिकॉर्ड मंगवाया