अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कमेटी के समक्ष प्राचार्यो ने निकाली भड़ासं

झारखंड और बिहार के कॉलेजों के प्राचार्यो ने यूजीसी पे रिवीजन कमेटी के समक्ष अपनी भड़ास निकाली। दोनों राज्यों के शिक्षक, विवि अधिकारी और प्राचार्यो के साथ कमेटी की बैठक के दूसर दिन 24 जून को प्राचार्यो ने अपना पक्ष रखा।ड्ढr उन्होंने सुझाव के साथ-साथ यूनिवर्सिटी द्वारा उनके साथ अपनायी जा रही दोरंगी नीति की पोल भी खोली। खास कर रांची यूनिवर्सिटी के प्राचार्यो को प्रोफेसर के वेतनमान से वंचित किये जाने पर उन्होंने अपनी नाराजगी व्यक्त की। रांची यूनिवर्सिटी के डॉ रामप्रवेश ने कहा कि सभी यूनिवर्सिटी में प्राचार्यो को दस साल की सेवा के आधार पर प्रोफेसर का वेतनमान दिया गया है। रांची यूनिवर्सिटी में प्राचार्यो को इससे वंचित कर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। सभी प्राचार्यो का वेतन एक होना चाहिए। अब तो प्रोफेसर और रीडर का फर्क भी उनके साथ नहीं है। प्राचार्यो ने भत्ता बंद किये जाने का विरोध करते हुए प्रतिमाह तीन हाार रुपये देने की मांग की। प्राचार्यो ने परिनियम के अनुसार सभी सुविधाएं देने की बात कही। बैठक में 14 यूनिवर्सिटी के प्राचार्यो के प्रतिनिधियों ने अपनी बातें रखीं।ड्ढr इसके अलावा शारीरिक शिक्षा निदेशकों के वेतनमान पर भी चर्चा हुई। रांची यूनिवर्सिटी के प्रतिनिधि जेके सिन्हा ने ग्राउंड्स मैन और उप निदेशक के पद सृजन की मांग रखी। कमेटी ने ग्राउंड्स मैन के पद सृजन का प्रस्ताव सिर से खारिा कर दिया, लेकिन उप निदेशक के पद पर सहमति जतायी। बैठक में विभिन्न शिक्षक संघ के प्रतिनिधियों ने भी नये वेतनमान का प्रस्ताव रखा। यूनिवर्सिटी अधिकारियों के वेतनमान पर बैठक में कोई चर्चा नहीं हुई। कमेटी ने कहा कि इस मामले को यूजीसी की कोई अन्य कमेटी देखेगी। यूनिवर्सिटी ने वेतन निर्धारण रिपोर्ट सौंपी110 कार्यरत और 102 रिटायर कर्मियों का वेतन निर्धारण हुआड्ढr संवाददाता रांची रांची यूनिवर्सिटी ने फोर्थ ग्रेड कर्मियों के वेतन निर्धारण की रिपोर्ट सौंप दी है। 24 जून को यूनिवर्सिटी अधिकारियों और कर्मचारियों ने यह रिपोर्ट उच्च शिक्षा निदेशक डॉ अंजनी कुमार श्रीवास्तव को सौंपी। इसमें 110 कार्यरत और 102 रिटायर कर्मियों का वेतन निर्धारण किया गया है।ड्ढr रिपोर्ट एचआरडाी द्वारा दिये फार्मेट में तैयार की गयी है। इसमें सभी कर्मियों की नियुक्ित से लेकर अब तक की सेवा का पूर्ण विवरण बिंदुवार दिया गया है। मंगलवार को ही निदेशक ने विवि अधिकारियों के साथ बैठक कर रिपोर्ट की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि जल्द ही सभी फोर्थ ग्रेड कर्मियों का वेतन निर्धारण कर दिया जायेगा। बैठक में यूनिवर्सिटी के रािस्ट्रार डॉ एलएन भगत, एफओ डॉ सुशील प्रसाद, सहायक कुलसचिव एसएस अख्तर, अब्दुल बारी, एसपी पांडेय, एसके वर्मा, जगन्नाथ मांझी एवं ऐनुल अंसारी शामिल थे।ड्ढr एचआरडी की बैठक आजड्ढr मानव संसाधन विकास विभाग की समीक्षा बैठक 25 जून को प्रोजेक्ट भवन में होगी। शिक्षा सचिव जेबी तुबिद ने जिलों को अब तक दी गयी का उपयोगिता प्रमाण पत्र समेत अन्य बिंदुओं पर जानकारी के साथ उपस्थित रहने का निर्देश दिया है।ड्ढr बैठक पांच कोड्ढr मैट्रिक एवं पूरक परीक्षा को लेकर झारखंड एकेडेमिक कौंसिल ने पांच जुलाई को जिला शिक्षा पदाधिकारियों की बैठक बुलायी है। इसमें परीक्षा केंद्र निर्धारण समेत अन्य बिंदुओं पर चर्चा एवं निर्णय लिये जायेंगे।ड्ढr रिाल्ट 30 कोड्ढr नेतरहाट और इंदिरा गांधी आवासीय विद्यालय में नामांकन का रिाल्ट 30 जून को जारी किया जायेगा। मुख्य परीक्षा की कॉपी का मूल्यांकन हो गया है। झारखंड एकेडमिक कौंसिल नेतरहाट के लिए 100 छात्र एवं इंदिरा गांधी के लिए 75 छात्राओं के नामांकन की सूची जारी करगा।ड्ढr एडमिशन 30 तक हीड्ढr इंटरमीडिएट के नये सत्र में नामांकन का कार्य 30 जून तक पूरा करने का निर्देश झारखंड एकेडमिक कौंसिल ने दिया है। अध्यक्ष डॉ शालीग्राम यादव के अनुसार नामांकित छात्रों की पढ़ाई सात जुलाई से शुरू होगी। 2008-0प्रथम वर्ष के लिए तीनों संकाय का पाठय़क्रम जारी कर दिया गया है।ड्ढr 30 को हूल दिवसड्ढr झारखंड जन संस्कृति मंच 30 जून को हूल दिवस मनायेगा। इस दिन मंच की विभिन्न समितियां राज्य के जल, जंगल और जमीन को साम्राज्यवाद और पूंजीपतियों से बचाने के लिए अभियान चलायेंगी। यह जानकारी अनिल अंशुमन ने दी।ंं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कमेटी के समक्ष प्राचार्यो ने निकाली भड़ासं