DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गतिरोध मिटाने के लिए कांग्रेस ने झोंकी पूरी ताकत

ेंद्र में सत्तारूढ़ कांग्रेस पार्टी ने परमाणु करार पर गतिरोध खत्म करने के लिए पूरी ताकत झोंक दी है। कांग्रेस के वरिष्ठ मंत्रियों ने माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) महासचिव प्रकाश करात से मुलाकात की है, लेकिन अभी तक कोई सकारात्मक नतीजा नहीं निकला है। करात का रुख पहले की तरह ही सख्त बना हुआ है। सूत्रों के मुताबिक वे इस मसले पर टस से मस होने को तैयार नहीं हैं। परमाणु मसले पर संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग)-वाम समिति की अहम बैठक से पहले करात को मनाने का अंतिम प्रयास अभी तक रंग नहीं ला पाया है। करात अपने पहले वाले रुख पर ही अड़े हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक करात से मुलाकात के बाद विदेश मंत्री प्रणव मुखर्जी और रक्षा मंत्री एके एंटनी ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की। सोनिया से उनके 10 जनपथ आवास पर इन मंत्रियों की मुलाकात के दौरान सोनिया के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल भी मौजूद थे। सूत्रों ने यह भी बताया कि सोनिया गांधी ने इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से भी बातचीत की। मनमोहन सिंह परमाणु करार पर आगे बढ़ने के हिमायती हैं। माना जा रहा है केंद्र सरकार अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) के साथ परमाणु सुरक्षा मानकों पर समझौते के लिए और अधिक मोहलत मांग सकती है। वैसे, गठबंधन के कई घटक दल मौजूदा परिस्थितियों में चुनाव के पक्ष में नहीं हैं, इसलिए वे इस मसले पर संयम बरते जाने के पक्ष में हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: गतिरोध मिटाने के लिए कांग्रेस ने झोंकी पूरी ताकत