DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सुचिता आनंद मामले में पायलेट को जमानत

इंडीगो एयरलाइन की एयरहोस्टेस सुचिता आनंद के खुदकुशी प्रकरण में गिरफ्तार इसी एयरलाइन के सहपायलेट अजरुन मेनन को मुंबई की एक अदालत ने बुधवार को जमानत पर रिहा करने का आदेश दिया। मेनन को 12 जून को गिरफ्तार किया गया था। उस पर सुचिता को खुदकुशी के लिए मजबूर करने का आरोप था। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश विनय जोशी ने 25 हजार रुपए की जमानत और निजी मुचलके पर रिहा करने के साथ एक महीने तक शहर न छोड़ने, जांच अधिकारी को अपना स्थाई पता देने और मामले में आरोपपत्र दाखिल होने तक हर रविवार को पुलिस स्टेशन में हाजिरी भरने का निर्देश भी दिया। इससे पूर्व बचाव वकील हर्षद पोंडा ने अदालत को बताया कि सुचिता और अजरुन साथ काम करते थे और अक्सर मिलते थे पर इसका कोई प्रमाण नहीं है कि अजरुन ने सुचिता को आत्महत्या के लिए मजबूर किया। अभियोजन पक्ष के अनुसार अजरुन और सुचिता में करीबी संबंध थे और अजरुन आखिरी व्यक्ित था जिसने सुचिता को जीवित देखा था। अजरुन ने कथित रूप से सुचिता से शादी करने से मना किया था। अजरुन तलाकशुदा था और सुचिता अपने पति से तलाक लेने के लिए याचिका दाखिल कर चुकी थी। सुचिता ने शादी से अजरुन के कथित इंकार के बाद आठ जून को होटल पाम ग्रोव के कमरे में खुदकुशी कर ली थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सुचिता आनंद मामले में पायलेट को जमानत