DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब मैट्रिक स्तर पर ही होगा रचिास्ट्रेशन

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा आयोजित इंटर व मैट्रिक परीक्षा के लिए समय निर्धारित कर लिया गया है। बिहार बोर्ड की बैठक में परीक्षा समिति द्वारा तैयार किए जा रहे शैक्षणिक कैलेंडर को मंजूरी प्रदान कर दी गयी। बोर्ड द्वारा तैयार किए गए शैक्षणिक कैलेंडर में सभी महत्वपूर्ण कार्यो के लिए तिथियों का निर्धारण किया गया है। समिति ने जुलाई से एकेडमिक कैलेंडर को लागू करने की योजना तैयार कर ली है।ड्ढr ड्ढr बुधवार को एकेडमिक कैलेंडर के बोर्ड में मंजूरी मिलने के बाद इसको प्रकाशन कराने के लिए भेजा जा रहा है। समिति का कहना है कि एकेडमिक कैलेंडर को विधिवत मानव संसाधन मंत्री हरिनारायण सिंह द्वारा जारी किया जाएगा। हालांकि परीक्षा तिथियों के संबंध में अभी तक अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है। समिति के अध्यक्ष प्रो. एकेपी यादव ने बताया कि 200ी वार्षिक 12वीं की परीक्षा 15 से 21 फरवरी के बीच शुरू होगी। वहीं मार्च के तीसर सप्ताह में मैट्रिक की परीक्षा ली जाएगी। 25 से 28 मई के बीच परीक्षा परिणाम घोषित किया जाएगा। समिति ने तय किया है कि 2008 से मैट्रिक स्तर पर ही छात्रों का रािस्ट्रेशन होगा। ग्यारहवीं में रािस्ट्रेशन की प्रक्रिया को समाप्त किया जा रहा है। इस संबंध में समिति के सचिव अनूप कुमार सिन्हा ने बताया कि मैट्रिक स्तर पर रािस्ट्रेशन की प्रक्रिया 15 जुलाई से शुरू की जाएगी।ड्ढr उन्होंने बताया कि कैलेंडर में सत्रावधि, सेंट अप व वार्षिक परीक्षा के लिए परीक्षा फार्म का दाखिल करने, शैक्षणिक व गैर शैक्षणिक कर्मचारियों की छुट्टी की संभावित तिथि के संबंध में विस्तार से चर्चा की गयी है। अध्यक्ष ने कहा कि मैट्रिक स्तर के लगभग पौने आठ लाख व 12वीं स्तर के लगभग पौने छह लाख छात्रों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए शैक्षणिक कैलेंडर का प्रकाशन किया जा रहा है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब मैट्रिक स्तर पर ही होगा रचिास्ट्रेशन